Saturday, March 18, 2017

"मैं नहीं,आपकी EVM खराब है जी"!! - पीताम्बर दत्त शर्मा (स्वतन्त्र-टिप्पणीकार) मो.न.+9414657511.

एक सौ पच्चीस साल पुराणी पार्टी का हाल हमारे सामने है ! प्रादेशिक पार्टियों के सामने हाथ फैलाती नज़र आती है ,और मांगती नज़र आती है कि इतने विधायकों की टिकटें देदो प्लीज़ ! वो भी  पाते हैं बेचारे राष्ट्रिय पार्टी के उपाध्यक्ष महोदय !बेचारों के अन्य नेता,मुख्यमंत्री पद के दावेदार,प्रदेशाध्यक्ष सहित सब अब मुंह छिपाते फिरते हैं !कोई पूछता है कि कौन जिम्मेदार है इस हार का ,तो बड़ी कुर्बानी देने के अंदाज़ में छाती पर हाथ रख कर कहते हैं कि "निस्संदेह हम कार्यकर्त्ता"हैं !हमारे राहुल जी तो अपनी बहन,माता और जीजा जी के साथ अच्छा काम कर रहे हैं !उन्हें तो अब और ज्यादा बड़ी जिम्मेदारी पार्टी में मिलनी चाहिए !ताकि वो अपने अन्य मित्रों के संग मिलकर और ज्यादा "खुलकर"काम कर सकें !
                         उधर अखिलेश एन्ड पार्टी अभी भी उन्हें "प्रधानमंत्री पद"का दावेदार मानती है !दबी जुबान में वो कोंग्रेस को जिम्मेदार मानते हैं !माननीय चाचा जी और बाऊ जी अब " मार्ग-दर्शक "की भूमिका निभाएंगे !!हमारी बहन मायावती जी तो और भी अच्छा बहाना ढूंढ लायीं ! पहली बात तो किसी की हिम्मत ही नहीं कि कोई उनसे कह पाता कि "आप की वजह से हार "हुई है !उन्होंने खुद ही प्रेस कांफ्रेंस कर के "पन्ना पढ़"दिया कि "मैं नहीं चुनाव आयोग की EVM ख़राब है"! मौका अच्छा देख अखिलेश और राहुल ने भी उनका समर्थन कर दिया !
                              लेकिन जब संसद में कोंग्रेस चीखी कि उन्हीं के शब्दों में "मणिपुर और गोवा में नितिन गडकरी जी लोकतंत्र की हत्या कर आये"!!तो कोई उनके साथ खड़ा ही नहीं हुआ !दिल्ली के "लोकप्रिय मुख्यमंत्री"केजरी वाल जी ,(जो स्वयं कोई काम नहीं करते ,सब सिसोदिया जी पर छोड़ रख्खा है )  ने तो अजीब दलीलें देना शुरू कर दिया !बोले कि हमारे साथ इतने पत्रकार थे,इतनी रैलियों में भीड़ थी ,भला हम कैसे हार सकते हैं ?बहन जी कहती हैं तो EVM की जांच करवालो ना !जैसे उन्होंने पहले कहा था कि पाकिस्तान कहता है तो सर्जिकल स्ट्राइक के सबूत उनको देदो ना !अजीब आदमी हैं ये आप वाले भी !
                              मोदी जी भी कमाल के आदमी हैं !बड़े से बड़े दुश्मन को भी उनकी तारीफ़ करनी पड़ जाती है ! अभी आज श्री ॐ प्रकाश माथुर जी और केशव प्रसाद मौर्य जी उनसे मिलने पहुंचे !माथुर जी बोले साहिब इन्हें मुख्यमंत्री बना दीजिये !तो वो बोले कि माथुर जी आपको राजस्थान जाना है या इन्हें यूपी का सी एम बनाएं ! बेचारे दोनों हाथ जोड़कर बाहर आ गए !कह आएकी आप जैसा चाहो वैसा करो जी !हमारा पूरा समर्थन रहेगा !
                            तो पाठक मित्रो !! जनता इन घिसे पिटे नेताओं को कई बार खारिज कर चुकी है ! लेकिन ये बेशर्म लोग फिर से जनता के सामने कोई नया विषय या नया रूप लेकर आ जाते है !जनता फिर इन्हीं के चक्करों में फंस जाती है ! चुनाव आयोग को कुछ ऐसा नियम बनाना चाहिए कि जिसकी जमानत जब्त हो जाए ,वो फिर उस स्थान से उस पद हेतु दुबारा चुनाव ही ना लड़ पाए !कोई अपराधी तो कभी भी नहीं चुनाव लड़ पाए !जैसे लालू यादव जी बिना चुनाव लाडे ही नेतागिरी करते फिरते हैं ,वो भी बन्द होनी चाहिए !इन जैसे लोगों ने देश को अपनी "जागीर "ही समझ रख्खा है जी !




"5th पिल्लर करप्शन किल्लर", "लेखक-विश्लेषक एवं स्वतंत्र टिप्प्न्नीकार", पीताम्बर दत्त शर्मा ! वो ब्लॉग जिसे आप रोजाना पढना,शेयर करना और कोमेंट करना चाहेंगे ! link -www.pitamberduttsharma.blogspot.com मोबाईल न. + 9414657511. इंटरनेट कोड में ये है लिंक :- https://t.co/iCtIR8iZMX. "5th pillar corruption killer" नामक ब्लॉग अगर आप रोज़ पढ़ेंगे,उसपर कॉमेंट करेंगे और अपने मित्रों को शेयर करेंगे !तो आनंद आएगा !

1 comment:

  1. आपकी इस प्रविष्टि् के लिंक की चर्चा कल मंगलवार (21-03-2017) को

    चक्का योगी का चले-; चर्चामंच 2608
    पर भी होगी।
    --
    सूचना देने का उद्देश्य है कि यदि किसी रचनाकार की प्रविष्टि का लिंक किसी स्थान पर लगाया जाये तो उसकी सूचना देना व्यवस्थापक का नैतिक कर्तव्य होता है।
    हार्दिक शुभकामनाओं के साथ।
    सादर...!
    डॉ.रूपचन्द्र शास्त्री 'मयंक'

    ReplyDelete

"कुछ नहीं ,है भाता ,जब रोग ये लग जाता".....!!! - पीताम्बर दत्त शर्मा (स्वतंत्र टिप्पणीकार) मो.न.+ 9414657511

वैसे तो मित्रो,! सभी रोग बुरे होते हैं !लेकिन कुछ रोग तो हमारा पीछा छोड़ देते हैं और कुछ आदमी की मौत तलक साथ देते हैं !पुराने जमाने में ऐसे ...