Saturday, February 27, 2016

क्या ऐसी चर्चाओं से कोई समस्या का हल निकल सकता है ?- पीताम्बर दत्त शर्मा (लेखक-विश्लेषक) मो.न. - +9414657511.

  परम विदुषी बहन मृणाल-पांडे जी ने हाल ही एक लेख में वेदों का उदाहरण देते हुए लिखा कि हर समस्या का समाधान चर्चा करने से ही हो सकता है ! मैं भी इस वाक्य से शब्दशः सहमत हूँ , लेकिन चर्चा किस विषय पर कौन करेगा और किन नियमों के तहत तहत होनी चाहिए , ये नियम भी तो वेदों ने बताये हैं ! उनका ज़िक्र करना शायद वो भूल गयीं , या फिर किसी विशेष "विचारधारा"के प्रति अपना पक्ष दिखाने के चक्कर में उन्होंने चर्चा की शर्तों को बताना उचित नहीं समझा ! 
                          प्रश्न ये भी पैदा होता है कि क्या हर समस्या केवल चर्चा कर देने से समाप्त भी हो जाती है क्या ?जैसे J.N.U.में राष्ट्र-द्रोह के मामले में हुआ ! पक्ष-विपक्ष दोनों ने इस मुद्दे को अन्य सहयोगी मुद्दों में ऐसा उलझाया कि असल मुद्दा तो आज कहीं दिखाई नहीं पड रहा है लेकिन दुसरे कई ऐसे मुद्दे और ज्यादा उभर कर सामने आ गए , जिनसे देश और ज्यादा आहत हो गया है !कोई महिषासुर के नाम ले देने से दुखी हो गया तो कोई दुर्गा को "कालगर्ल" कहने से !और तो और तब तो हद्द ही हो गयी जब बहन मायावती ने एक जुमला बोले जाने पर उनका शीश ही मांग लिया !
                               पिछली सरकार के बड़े अफसर और मंत्री ना जाने क्या बयान दे रहे हैं कि विश्वास ही नहीं होता कि ऐसा भी हो सकता है ? क्या कॉंग्रेस इतने बड़े षड्यंत्र भी रच सकती है कि वो 2004 से लेकर आज तक  मोदी जी निशाना बनाने हेतु भारत के हिन्दुओं और देश तक को दांव पर लगा सकती है ?अगर ये सत्य है तो मोदी जी को भारत में आपात-काल लगाकर एक बार पूरे देश को "खंगाल"लेना चाहिए कि जितने भी देश के अंदर दुश्मन किसी भी वेश में रह रहे हैं उनको छान कर बाहर निकला जा सके और उलटे  सके !
                             विपक्षी नेता तो पता नहीं किस लालच में आकर कोंग्रस के साथ गलबहियां डाले हुए है ! शायद इंदिरा जी की मार वो भूल गए हैं !भगवन ही उनको होश में ला सकता है !मेरा तो ये मानना है कि संसद के नियमों को सख्ती से लागू करके हर उस ख़ास विषय का "हल"ढूंढकर ही उसे समापत किया जाए और फिर किसी अन्य मुद्दे पर बात शुरू की जाए ! अन्यथा देश का भला नहीं हो सकता !" 5TH PILLAR CORRUPTION KILLER " THE BLOG .

 प्रिय मित्रो , सादर नमस्कार !! आपका इतना प्रेम मुझे मिल रहा है , जिसका मैं शुक्रगुजार हूँ !! आप मेरे ब्लॉग, पेज़ , गूगल+ और फेसबुक पर विजिट करते हो , मेरे द्वारा पोस्ट की गयीं आकर्षक फोटो , मजाकिया लेकिन गंभीर विषयों पर कार्टून , सम-सामायिक विषयों पर लेखों आदि को देखते पढ़ते हो , जो मेरे और मेरे प्रिय मित्रों द्वारा लिखे-भेजे गये होते हैं !! उन पर आप अपने अनमोल कोमेंट्स भी देते हो !! मैं तो गदगद हो जाता हूँ !! आपका बहुत आभारी हूँ की आप मुझे इतना स्नेह प्रदान करते हैं !!नए मित्र सादर आमंत्रित हैं ! the link is - www.pitamberduttsharma.blogspot.com.  , गूगल+,पेज़ और ग्रुप पर भी !!ज्यादा से ज्यादा संख्या में आप हमारे मित्र बने अपनी फ्रेंड रिक्वेस्ट भेज कर !! आपके जीवन में ढेर सारी खुशियाँ आयें इसी मनोकामना के साथ !! हमेशां जागरूक बने रहें !! बस आपका सहयोग इसी तरह बना रहे !!
मेरा मोबाईल नंबर ये है :- 09414657511. 01509-222768. धन्यवाद !!आपका प्रिय मित्र ,
पीताम्बर दत्त शर्मा,
हेल्प-लाईन-बिग-बाज़ार,
R.C.P. रोड, सूरतगढ़ !


Friday, February 26, 2016

हो जाएगा ये भी काम !!!!" 5TH PILLAR CORRUPTION KILLER " THE BLOG .- पीताम्बर दत्त शर्मा,

आओ मिलकर आग लगाएं,नित नित नूतन स्वांग करें,
पौरुष की नीलामी कर दें,आरक्षण की मांग करें,
पहले से हम बंटे हुए हैं,और अधिक बंट जाएँ हम,
100 करोड़ हिन्दू है,मिलकर इक दूजे को खाएं हम,
देश मरे भूखा चाहे पर अपना पेट भराओ जी,
शर्माओ मत,भारत माँ के बाल नोचने आओ जी,
तेरा हिस्सा मेरा हिस्सा,किस्सा बहुत पुराना है,
हिस्से की रस्साकसियों में भूल नही ये जाना है,
याद करो ज़मीन के हिस्सों पर जब हम टकराते थे,
गज़नी कासिम बाबर मौका पाते ही घुस आते थे
अब हम लड़ने आये हैं आरक्षण वाली रोटी पर,
जैसे कुत्ते झगड़ रहे हों कटी गाय की बोटी पर,
हमने कलम किताब लगन को दूर बहुत ही फेंका है,
नाकारों को खीर खिलाना संविधान का ठेका है,
मैं भी पिछड़ा,मैं भी पिछड़ा,कह कर बनो भिखारी जी,
ठाकुर पंडित बनिया सब के सब कर लो तैयारी जी,
जब पटेल के कुनबों की थाली खाली हो सकती है,
कई राजपूतों के घर भी कंगाली हो सकती है,
बनिए का बेटा रिक्शे की मज़दूरी कर सकता है,
और किसी वामन का बेटा भूखा भी मर सकता है,
आओ इन्ही बहानों को लेकर,सड़कों पर टूट पड़ो,
अपनी अपनी बिरादरी का झंडा लेकर छूट पड़ो,
शर्म करो,हिन्दू बनते हो,नस्लें तुम पर थूंकेंगी,
बंटे हुए हो जाति पंथ में,ये ज्वालायें फूकेंगी,
मैं पटेल हूँ मैं गुर्जर हूँ,लड़ते रहिये शानों से,
फिर से तुम जूते खाओगे गजनी की संतानो से,
ऐसे ही हिन्दू समाज के कतरे कतरे कर डालो,
संविधान को छलनी कर के,गोबर इसमें भर डालो,
राम राम करते इक दिन तुम अस्सलाम हो जाओगे,
बंटने पर ही अड़े रहे तो फिर गुलाम हो जाओगे...।।
कुलदीप सिंह सिसोदिया सूरतगढ

हो जाएगा ये भी काम !!!!" 5TH PILLAR CORRUPTION KILLER " THE BLOG .

 प्रिय मित्रो , सादर नमस्कार !! आपका इतना प्रेम मुझे मिल रहा है , जिसका मैं शुक्रगुजार हूँ !! आप मेरे ब्लॉग, पेज़ , गूगल+ और फेसबुक पर विजिट करते हो , मेरे द्वारा पोस्ट की गयीं आकर्षक फोटो , मजाकिया लेकिन गंभीर विषयों पर कार्टून , सम-सामायिक विषयों पर लेखों आदि को देखते पढ़ते हो , जो मेरे और मेरे प्रिय मित्रों द्वारा लिखे-भेजे गये होते हैं !! उन पर आप अपने अनमोल कोमेंट्स भी देते हो !! मैं तो गदगद हो जाता हूँ !! आपका बहुत आभारी हूँ की आप मुझे इतना स्नेह प्रदान करते हैं !!नए मित्र सादर आमंत्रित हैं ! the link is - www.pitamberduttsharma.blogspot.com.in   , गूगल+,पेज़ और ग्रुप पर भी !!ज्यादा से ज्यादा संख्या में आप हमारे मित्र बने अपनी फ्रेंड रिक्वेस्ट भेज कर !! आपके जीवन में ढेर सारी खुशियाँ आयें इसी मनोकामना के साथ !! हमेशां जागरूक बने रहें !! बस आपका सहयोग इसी तरह बना रहे !!
मेरा मोबाईल नंबर ये है :- 09414657511. 01509-222768. धन्यवाद !!आपका प्रिय मित्र ,
पीताम्बर दत्त शर्मा,
हेल्प-लाईन-बिग-बाज़ार,
R.C.P. रोड, सूरतगढ़ !
जिला-श्री गंगानगर।

Friday, February 19, 2016

5TH Pillar Corruption Killer: "काला-धन","काले-मन","काले-उद्देश्य","काली-राजनीति"...

5TH Pillar Corruption Killer: "काला-धन","काले-मन","काले-उद्देश्य","काली-राजनीति"...: हे!भारतमाता !!                    सादर-नमन ! तू कब से परेशान है ,मुझे नहीं पता लेकिन इतना अवश्य जानता हूँ की जब से तुमने मुझे अपनी गोद मे...

"काला-धन","काले-मन","काले-उद्देश्य","काली-राजनीति","काली-पत्रकारिता "और "काला तंत्र",तो क्या होगा भारत-माता तेरा !!- पीताम्बर दत्त शर्मा (लेखक-विश्लेषक) मो.न. - +9414657511

हे!भारतमाता !!
                   सादर-नमन !
तू कब से परेशान है ,मुझे नहीं पता लेकिन इतना अवश्य जानता हूँ की जब से तुमने मुझे अपनी गोद में खेलना सिखाया-पढ़ाया और अपनी होश में लाया तभी से मैंने तुम्हें हँसते हुए नहीं देखा !कभी तेरा किसान बेटा - बेटी दुखी तो कभी कोई जवान और उसकी पत्नी के दुःख से तू दुखी हो जाती है ! तुम कभी तो देश के पत्रकारों को दुकानदारी करते दुखी हो जाती है तो कभी देश के शिक्षकों को अपने शिष्यों को कुविचार देते देख दुखी हो जाती हो !"काले तंत्र,काले-धन,काले-मन और काली -राजनीती करने वालों से भी तुम परेशान हो !
                     ये सिलसिला कब से शुरू हुआ ?? शायद देवताओ-राक्षसों के समय से ही ये सब हो रहा था !तभी आप भगवान विष्णु के पास गुहार लगाने गयीं थीं ! क्या अब वहाँ नहीं जाया जा सकता ?क्या अब भगवान विष्णु नहीं रहे या उन तक जाने का तुम रास्ता भूल चुकी हो ?या फिर हमें और तुम्हें और ज्यादा दुःख सहने पड़ेंगे तब सुनवाई होगी ? ये काले राक्षस लोग जो अब लेखक-पत्रकार,नेता,शिक्षक,समाजसेवी और ना जाने क्या क्या वेश धारण कर चुके हैं , कब तलक अपना" ताण्डव "जारी रख्खेंगे ??
                घटनाक्रम को तोडना मरोड़ना कोई इन कुकर्मियों से सीखे ?देश द्रोह का एक वीडिओ सामने आया तो उसको गलत साबित करने हेतु 4 वीडिओ और बनाकर दिखा दिए गए !देश द्रोहियों को सज़ा मिलनी चाहिए , ये तो ये लोग बोले !! लेकिन साथ में "10 लेकिन" लगा दिए !देश की सरकार और सरकारी तंत्र समझोता करता भी दिखाई दे रहा है !तो माता तुम्हें और हमें इन राक्षसों के चुंगल से कौन बचाएगा ?
             मैं तो एक फिल्म का यही भजन दोहराऊंगा कि "कन्हैया-कन्हैया तुझे आना पड़ेगा , वचन गीता वाला निभाना पडेगा "!!क्योंकि रामचन्द्र कह गए सिया से ऐसा कलयुग आएगा , " हंस "चुगेगा दाना तिनका , "कौआ" माटी खायेगा !!इसलिए हे माता हम बालकों के उद्धार हेतु जल्दी से भगवान विष्णु के पास जाओ ,हमारी और अपनी हालात को बयान करो और इन "काले-कर्मों वाले लोगों से निजात दिलवाओ ! 
                    ताकि आप भी प्रसन्न रहसको और हमारे बीच में जो "काले-लोग" हैं उन्हें कोई "भगवान का अवतार "उनका संहार कर सके !हमसे तो ये काबू में नहीं आ सकते जब सरकार और सरकारी तंत्र ही इनसे डरता फिरता है !!
          जय श्री राम-हो जाएगा ये भी काम !!!!" 5TH PILLAR CORRUPTION KILLER " THE BLOG .  प्रिय मित्रो , सादर नमस्कार !! आपका इतना प्रेम मुझे मिल रहा है , जिसका मैं शुक्रगुजार हूँ !! आप मेरे ब्लॉग, पेज़ , गूगल+ और फेसबुक पर विजिट करते हो , मेरे द्वारा पोस्ट की गयीं आकर्षक फोटो , मजाकिया लेकिन गंभीर विषयों पर कार्टून , सम-सामायिक विषयों पर लेखों आदि को देखते पढ़ते हो , जो मेरे और मेरे प्रिय मित्रों द्वारा लिखे-भेजे गये होते हैं !! उन पर आप अपने अनमोल कोमेंट्स भी देते हो !! मैं तो गदगद हो जाता हूँ !! आपका बहुत आभारी हूँ की आप मुझे इतना स्नेह प्रदान करते हैं !!नए मित्र सादर आमंत्रित हैं ! the link is - www.pitamberduttsharma.blogspot.com.in   , गूगल+,पेज़ और ग्रुप पर भी !!ज्यादा से ज्यादा संख्या में आप हमारे मित्र बने अपनी फ्रेंड रिक्वेस्ट भेज कर !! आपके जीवन में ढेर सारी खुशियाँ आयें इसी मनोकामना के साथ !! हमेशां जागरूक बने रहें !! बस आपका सहयोग इसी तरह बना रहे !!
मेरा मोबाईल नंबर ये है :- 09414657511. 01509-222768. धन्यवाद !!
आपका प्रिय मित्र ,
पीताम्बर दत्त शर्मा,
हेल्प-लाईन-बिग-बाज़ार,
R.C.P. रोड, सूरतगढ़ !
जिला-श्री गंगानगर।





अपना पंचू: 'असली' देशभक्त बनने के प्रमुख 10 तरीके

अपना पंचू: 'असली' देशभक्त बनने के प्रमुख 10 तरीके:  वा मपंथियों की विचार परंपरा के हिसाब से देशभक्ति के दस सूत्र... इन दस तरीकों को नहीं अपनाया तो आप देशभक्त नहीं बल्कि संघी माने जायेंगे।...

Thursday, February 18, 2016

दीपक बाबा की बक बक: माहौल गर्म है

दीपक बाबा की बक बक: माहौल गर्म है:               देश में माहौल गर्म है. ट्विटर/फेसबुक  पर धड़ाधढ ख़बरें / विचार आ रहे है, जब तक आप सोचो नयी ट्वीट/पोस्ट आ जाती है. सारा दिन गहमा...

Tuesday, February 16, 2016

मोदी जी विदेशी दुश्मनो से बाद में लड़ना,केवल चौकस रहना ,पहले घरेलु गद्दारों से निपटना होगा !- पीताम्बर दत्त शर्मा (लेखक-विश्लेषक)मो.न. - + 9414657511

भारत के माननीय प्रधानमंत्री जी ! सादर नमन ! दुर्भाग्य से या जनता की नादानी से हमारे देश में ऐसे नेता चुनाव जीत जाते हैं जो देश की दुश्मन शक्तियों के हाथों में खेलते रहते हैं ! मात्र वोटों और धन की लालसा में !ये सिलसिला थमा नहीं है ! ऐसे लोगों ने हर एक राजनितिक दल में अपना स्थान बना लिया है ! बस काम या ज्यादा का ही अंतर है ! 
                                ये हमारा सौभाग्य है कि आप इस देश के प[रधानमंत्री बन पाये ! लेकिन आपके हाथ में भी अभी स्पष्ट बहुमत नहीं आ पाया है ! विपक्षी नेता अपनी मक्कारी और ढिठाई जोर-शोर से संसद और बाहर दिखा रहे हैं !उनके छिपे हुए समर्थक भी अपने स्थान पर रहकर समर्थन करते नज़र आ रहे हैं ! इसलिए आपसे निवेदन है की आप एक योजना से एक लम्बी लड़ाई की व्यूह-रचना कीजिये और सभी सुरक्षा बलों को देश के अंदर रह रहे गद्दारो पर भी नज़र रखने का आदेश देवें !
                          आप इस मौके को अंतिम अवसर मानकर ही योजना बनाएं! आगे सत्ता आये या ना आये कौन जानता है ! इस देश की जनता कब नशे-पैसे-जाति-धर्म-इलाके और राजनितिक दलों के बहकावे में आ जाए कुछ पता नहीं है !भाजपा का संगठन भी अब बाकी सारे काम छोड़कर एक इसी काम पर लग जाए कि अपने आस-पास चौकस रहकर इन छिपे हुए गद्दारों को सरकार और प्रशासन की नज़रों में लाये ताकि देश वापिस देश भक्तों से भर जाए !!किसी दुश्मन को अपना सर उठाने से इतना ड़र लगे कि कोई गलत काम करने से पहले होने वाले "अंजाम"से ठिठुर जाए !
                         सधन्यवाद ! 
                                                आपका कार्यकर्ता ,
                                                  पीताम्बर दत्त शर्मा 
" 5TH PILLAR CORRUPTION KILLER " THE BLOG .  प्रिय मित्रो , सादर नमस्कार !! आपका इतना प्रेम मुझे मिल रहा है , जिसका मैं शुक्रगुजार हूँ !! आप मेरे ब्लॉग, पेज़ , गूगल+ और फेसबुक पर विजिट करते हो , मेरे द्वारा पोस्ट की गयीं आकर्षक फोटो , मजाकिया लेकिन गंभीर विषयों पर कार्टून , सम-सामायिक विषयों पर लेखों आदि को देखते पढ़ते हो , जो मेरे और मेरे प्रिय मित्रों द्वारा लिखे-भेजे गये होते हैं !! उन पर आप अपने अनमोल कोमेंट्स भी देते हो !! मैं तो गदगद हो जाता हूँ !! आपका बहुत आभारी हूँ की आप मुझे इतना स्नेह प्रदान करते हैं !!नए मित्र सादर आमंत्रित हैं ! the link is - www.pitamberduttsharma.blogspot.com  , गूगल+,पेज़ और ग्रुप पर भी !!ज्यादा से ज्यादा संख्या में आप हमारे मित्र बने अपनी फ्रेंड रिक्वेस्ट भेज कर !! आपके जीवन में ढेर सारी खुशियाँ आयें इसी मनोकामना के साथ !! हमेशां जागरूक बने रहें !! बस आपका सहयोग इसी तरह बना रहे !!

मेरा मोबाईल नंबर ये है :- 09414657511. 01509-222768. धन्यवाद !!
आपका प्रिय मित्र ,
पीताम्बर दत्त शर्मा,
हेल्प-लाईन-बिग-बाज़ार,
R.C.P. रोड, सूरतगढ़ !
जिला-श्री गंगानगर।



Saturday, February 13, 2016

क्या पाकिस्तान सिर्फ टैरर ही नहीं फेल स्टेट भी है ?????

अगर हेडली सही है तो पाकिस्तानी सत्ता के लिये लश्कर भारत के खिलाफ जेहाद का सबसे मजबूत ढाल भी है और विदेश कूटनीति का सबसे धारदार हथियार भी । अगर हेडली सही है तो पाकिस्तानी सेना की ट्रेनिंग , विदेश मंत्रालय की मदद और खुफिया एजेंसी आईएसआई के बनाये रास्ते ही भारत के खिलाफ पाकिस्तानी सिस्टम है । जिसके आसरे पाकिस्तानी सत्ता एक तरफ आतंक को कानूनी जामा पहनाता है यानी भारत के खिलाफ आतंकी संगठनों को बेखौफ बनाता है तो दूसरी तरफ आंतकवाद पर नकेल कसने के लिये भारत के साथ खडे होने की दुहाई देता है ।


याद कीजिये 20 जून 2001 में जनरल मुशर्ऱफ सत्ता पलट के बाद पाकिस्तान के सीईओ से होते हुये राष्ट्रपति बनते हैं । 13 दिसंबर 2001 को भारत की संसद पर लश्कर-जैश मिलकर हमला करते है । हमले के बाद प्रधानमंत्री वाजपेयी आर पार की लडाई का एलान करते हैं । और मुशर्ऱफ एक तरफ आतंकवादियों पर कार्रवाई का जिक्र करते है । लेकिन अगर हेडली सही है तो 2002 में लश्कर मुखिया हाफिज सईद पर कोई रोक नहीं लगी । क्योंकि पीओके के मुज्जफराबाद में हाफिज सईद की तकरीर सुनकर ही हेडली लश्कर का दीवाना होता है । यानी हाफिज सईद की खुली तकरीर पाकिस्तना में जारी रही । अगर ह  ली सही है तो पाकिस्तानी सत्ता ने ही हाफिज सईद को बचाने के लिये लशकर की जगह जमात-उल-दावा बनवाया । क्योकि जिस दौर में जमात बनती है उसी दौर में लश्कर के पीओके के ट्रनिंग कैप में हेडली ट्रेनिंग भी लेता है ।

अगर हेडली सही है भारत के खिलाफ पाकिसातनी सेना और आईएसआई के विंग के तौर पर ही लश्कर काम करता है । क्योंकि हेडली को लश्कर के साथ जो़डने से लेकर भारत में मुंबई हमले की बिसात बिछाने में पाकिसातनी सेना के रिटायर मेजर अब्दुर रहमान पाशा ,मेजर साबिर अली ,मेजर इकबाल सबसे महत्वपूर्ण भूमिका निभाते हैं । अगर हेडली सही है तो पाकिस्तानी विदेश मंत्रालय को भी पाकिस्तानी सत्ता हेडली के लिये काम पर लगाती है । क्योकि इसी दौर में अमेरिका में पाकिस्तानी एंबेसडर की नियुक्ती सेना के रिटायर फौजियों की होती है । 2004-06 में जनरल जहांगीर करामत तो , 2006-08 में मेजर जनरल महमूद अली दुर्रानी अंबेसडर बनते हैं । इसी वक्त दाउद गिलानी से डेविड कोलमैन हेडली का जन्म होता है। और फर्जी पासपोर्ट बनवाने से लेकर भारत भिजवाने के काम में पाकिस्तानी सत्ता का सिस्टम काम करता है । और इसी दौर में हेडली अमेरिका से भारत कई बार रेकी के लिये आता है । और महफू  लौटता है । अगर हेडली सही है तो फिर पाकिस्तान में मुशर्रफ के बाद भी चुनी हुई सरकार के लिये भी भारत के खिलाफ आतंकी हमला कूटनीति और रणनीति दोनो का हिस्सा था। क्योंकि मार्च 2008 में ही पीपीपी के युसुफ रजा गिलानी प्रधानमंत्री बनते है तो सितंबर में जरदारी राष्ट्रपति बनते है । और हेडली के मुताबिक सितंबर 2008 में भी लश्कर के आंतकवादी भारत में घुसने का प्रयास करते है ।

और अक्टूबर 2008 में भी समुद्र के रास्ते भारत में घुसना चाहते है । यानी 26 नवंबर 2008 को हमले
से पहले पाकिस्तानी सेना बार बार आतंकी हमले का प्रयास करवाती है । तो हमले के बाद पाकिसातन की सत्ता भारत के हर सबूत को खारिज कर देता है । तो सवाल यही है अगर हेडली सच बोल रहा है तो हेडली पाकिसतान का मुखौटा बना रहा । और अब अगर नवाज शरीफ कहते है कि हालात बदल गये है तो लगता यही है कि मुखौटा बदला है रणनीति या कूटनीति नहीं । क्योंकि याद कीजिये मुबंई हमलों के तुरंत बाद नवंबर 2008 में ही पाकिस्तान के सूचना मंत्री रहमान मलिक खुले तौर पर कहते है कि वह आतंक पर नकेल कस रहे है । भारत के सबूत बगैर अपनी जांच को तेज कर रहे है । कई गिरफ्तारियां भी की है . और आठ बरस बाद पठानकोट हमले के बाद पाकिस्तान के विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता काजी खलीउल्लाह भी खुले तौर पर कहते है वह आतंक पर नकेल कस रहे हैं। सबूत के बगैर भी जैश के कैडर की घर पकड कर रहे है । जैश के तीन आंतकवादियो को गिरफ्तार भी किया है ।

यानी पाकिस्तान को लेकर भारत कैसे चक्रव्यूह में फंस रहा है यह डेविड कोलमैन हेडली की गवाही के बाद नये सिरे से पैदा हो रहा है । क्योंकि मुंबई पर हमला करने वाला फिदायिन कसाब जिन्दा पकड़ में आया । उसने लश्कर से ट्रनिंग लेने और लश्कर के कमांडर जकीउर्र रहमान लखवी का नाम लिया । मुंबई हमले के लिये रास्ता बनाने वाला डेविड कोलमैन हेडली ने गवाही में लश्कर की ट्रेनिंग और लश्कर के चीफ हाफिज सईद का नाम लिया । और हाफिज सईद फिलहाल पाकिस्तान में आजाद नागरिक है । लखवी को अदालत से जमानत
मिल चुकी है । यानी वह भी आजाद है । तो अगला सवाल यही है कि पाकिसान अगर पहले फिदायीन कसाब को अपना नहीं मानता । और अब हेडली के कबूलनामे को सच नहीं मानता । तो पाकिस्तन को लेकर भारत का रास्ता जाता किधर है । क्योकि हेडली से तो कल भी पूछताछ होनी है और तब अगर 26/11 के जरीये आतंकवाद पाकिस्तान की स्टेट पालेसी के तौर पर सामने आती है । तब भारत क्या करेगा। क्योंकि कश्मीर के जरीये आंतक को आजादी का संघर्ष एक वक्त मुशर्ऱफ ने भी कहा और याद किजिये तो पिछले दिनों नवाज शरीफ ने संयुक्त राष्ट्र में भी कहा । यानी कश्मीर नीति पाकिस्तान की स्टेट पालेसी है । और कश्मीर नीति का मतलब आंतकवादी संगठनो को पनाह देना है । यानी भारत पर होने वाले हर आतंकी हमलो से पाकिस्तानी सत्ता खुद को अलग बतायेगी । और आतंक का मुद्दा अंतर्राष्ट्रीय मंच पर उठाकर भारत को अपने साथ खड़े होने का दबाब बनाती है । यानी शिमला समझौते से लेकर लाहैौर घोषणापत्र और अब पठानकोट हमले के बाद जैश-ए मोहम्मद पर कार्रवाई का भरोसा । हर हालात में पाकिस्तान ने अगर आंतक पर नकेल कसने के लिये सिवाय खुद को आतंक से हटकर बताने के अलावे कुछ नहीं किया और डेविड कोलमैन हेडली अगर आंतकी संगठनो और पाकिसातन के हर पावर सेंट के तार को अपनी गवाही में जोड रहा है तो फिर अगला सवाल यह भी हो सकता है कि बातचीत कभी मुश्रऱफ से हुई या अब नवाज शरीफ से हो रही है । भारत के हाथ में आयेगा क्या । क्योकि हेडली की गवाही ने भारत के सामने दोहरा संकट पैदा किया है । पहला पाकिस्तान में चुनी हुई सरकार की राजनीतिक जरुरत आंतकी संगठन है । दूसरा आतंकी संगठन बेफिक्र ह  र अपने काम को अंजाम दे यह सत्ता की जरुरत है ।तो नया सवाल भारत के सामने यह नहीं है कि पाकिस्तान एक टैरर स्टेट है बल्कि नया सवाल यह है कि पाकिस्तान अगर एक फेल स्टेट है तो भारत क्या करें । और शायद मौजूदा वक्त में यही सबसे बडी चुनौती मोदी सरकार के सामने भी है ।

Friday, February 12, 2016

आपकी नज़रों ने समझा , देशभक्त इन्हें !!- पीताम्बर दत्त शर्मा (लेखक-विश्लेषक) मो.न. - +91-9414657511

  मित्रो!कहते हैं इंसान की आँखें इतनी समझदार होती हैं कि देखने मात्र से सामने वाले इंसान का एक्सरे कर देती हैं ! मनुष्य को एहसास करा देती हैं की जो आदमी हमारे सामने खड़ा है वो "किस" प्रकार का है ? उसके बाद में हमें उसकी बोली से और विविध तरह का ज्ञान प्राप्त होता है !तब हम अपने दिमाग में ये निश्चय कर पाते हैं की हमें सामने वाले पर कितना विश्वास करना है और कितनी उसकी आव-भगत करनी है ?आदि-आदि !!
                       हमारे मुल्क में मुसलमान हमलावर आ गए तो हमने उन पर भी विश्वास कर लिया तो वो हमारे ऊपर सेंक्डों साल शासन कर गए ! जब वो हमारे धन-बल पर "ऐय्याश"बन गए तो अंग्रेजों ने हमारे देश में व्यापार करने के बहाने से कदम रख्खा तो हमने उन पर भी विश्वास कर लिया ! इसीका फायदा उठाकर उन्होंने भी सौ साल तक हमारे ऊपर राज किया !लेकिन जाते-जाते वो ऐसे लोगों को भारत की सत्ता सौंप गए जो उन्ही की तरह से "कलाकार" थे !यानी जनता को बहलाने की कला के कलाकार !
                          हमने उनपर भी विश्वास किया ! तो उन्होंने भी हमारे ऊपर 57 वर्षों तलक शासन किया और हमें मुर्ख बनाया !हालांकि हम मुगलों,अंग्रेजों और इन काले अंग्रेजों के खिलाफ लड़े भी लेकिन हम उनकी रंग-बिरंगी चालों से हार गए !जिन लोगों को उन्होंने अपने "प्यार के काबिल" मान लिया केवल वो लोग ही अपने जन्म को "धन्य"बना पाये , वरना बाकी सब ज़िंदगी भर भटकते ही रह गए !जो थोड़ा बहुत दूसरी विचार धारा के लोग भारत पर शासन कर पाये ,वो सब इनसे डरते-डरते ही बस समय ही निकाल पाये , कुछ करके दिखा नहीं पाये !
                क्योंकि देश में चलने वाला संविधान कहने को तो आंबेडकर साहिब ने बनाया है लेकिन वास्तव में उसमे इतने लूपोल  छोड़ दिए गए कि राजनितिक दलों ने अपनी मनमर्ज़ी ही चलायी क़ानून सिर्फ गरीबों के लिए ही रह गया !उसके बाद भी समयसमय पर जो संशोधन उसमे किये गए वो भी इनकी सुविधा को बढ़ने हेतु ही किये गए ! लेकिन साथ-साथ बड़ी चालाकी से ये कुछ ऐसे काम भी करते रहे जिससे जनता उहापोह की स्थिति में उलझी रहे !सारा सिस्टम भी इन चतुर नेताओं के इशारों पर च;लने को मजबूर हो गया !
                    पहली बार देश में कोई ऐसा व्यक्ति प्रधानमंत्री बना ही जो इस मायाजाल को तोडना चाहता है !लेकिन काले अंग्रेजों के "सिपाही"सब जगहों पर विराज़मान हैं !यहां तलक की भाजपा में भी !राजयसभा में तो अभी वो ही लोग बहुमत में हैं !इसलिए या तो तानाशाह बन कर एक साथ सब काम कर दिए जाएँ ! आज के लोकतांत्रिक तरीकों से तो इन  दोषों को बदलना 5 वर्षों में तो संभव नहीं है !हद तो ये है की भारत के कई प्रदेशों में तो काले अंग्रेज आज भी जीत जाते हैं !देश की जनता आज भी कितनी भोली है मित्रो !!भारत के कितने लोग अपने दिलों में काले अंग्रेजों को धन्यवाद ही देते फिरते हैं !और मन में सोचते रहते हैं कि "आपकी नज़रों ने समझा , प्यार के काबिल मुझे ! दिल की ऐ धड़कन ठहर जा , मिल गयी मंज़िल मुझे !इस देश का कुछ नहीं हो सकता !मित्रो !! बस " रब ही राखा है "जी !!जय हिन्द !  " आकर्षक - समाचार ,लुभावने समाचार " आप भी पढ़िए और मित्रों को भी पढ़ाइये .....!!!
BY :- " 5TH PILLAR CORRUPTION KILLER " THE BLOG .  प्रिय मित्रो , सादर नमस्कार !! आपका इतना प्रेम मुझे मिल रहा है , जिसका मैं शुक्रगुजार हूँ !! आप मेरे ब्लॉग, पेज़ , गूगल+ और फेसबुक पर विजिट करते हो , मेरे द्वारा पोस्ट की गयीं आकर्षक फोटो , मजाकिया लेकिन गंभीर विषयों पर कार्टून , सम-सामायिक विषयों पर लेखों आदि को देखते पढ़ते हो , जो मेरे और मेरे प्रिय मित्रों द्वारा लिखे-भेजे गये होते हैं !! उन पर आप अपने अनमोल कोमेंट्स भी देते हो !! मैं तो गदगद हो जाता हूँ !! आपका बहुत आभारी हूँ की आप मुझे इतना स्नेह प्रदान करते हैं !!नए मित्र सादर आमंत्रित हैं ! the link is - www.pitamberduttsharma.blogspot.com. , गूगल+,पेज़ और ग्रुप पर भी !!ज्यादा से ज्यादा संख्या में आप हमारे मित्र बने अपनी फ्रेंड रिक्वेस्ट भेज कर !! आपके जीवन में ढेर सारी खुशियाँ आयें इसी मनोकामना के साथ !! हमेशां जागरूक बने रहें !! बस आपका सहयोग इसी तरह बना रहे !!

मेरा मोबाईल नंबर ये है :- 09414657511. 01509-222768. धन्यवाद !!
आपका प्रिय मित्र ,
पीताम्बर दत्त शर्मा,
हेल्प-लाईन-बिग-बाज़ार,
R.C.P. रोड, सूरतगढ़ !
जिला-श्री गंगानगर।




Posted by PD SHARMA, 09414657511 (EX. . VICE PRESIDENT OF B. J. P. CHUNAV VISHLESHAN and SANKHYKI PRKOSHTH (RAJASTHAN )SOCIAL WORKER,Distt. Organiser of PUNJABI WELFARE

Friday, February 5, 2016

आइये हम इन्टरनेट के माध्यमों को और ज्यादा रचनात्मक एवं समाज हित में काम आने वाला बनायें !!निर्धन परिवारों की कन्याओं की शादी करवाने में "5thpillar corruption killler"का धन से सहयोग करें ! - पीताम्बर दत्त शर्मा (लेखक-विश्लेषक - मो.न. - +919414657511

  मेरे प्यारे धर्मप्रेमी सज्जन मित्रो !
                                             सादर  नमस्कार !!
कुशलता के आदान-प्रदान पश्चात समाचार ये है कि आज इंटरनेट का माध्यम मानव समाज  हेतु एक विशेष स्थान तो अवश्य रखता है , कई क्षेत्रों में तो इसने उल्लेखनीय कार्य किये हैं ,जो क्रांतिकारी हैं ,लेकिन इसके साथ-साथ ये भी एक कड़वा सच है कि ये 'माध्यम"अपनी विश्वसनीयता स्थापित नहीं कर पाया ! जिसके कई कारण गिनाये जा सकते हैं !
                          आइये !! आप और हम इसके विभिन्न माध्यमों जैसे - फेसबुक,ट्विटर ,गूगल+और ब्लॉग आदि के मित्रों के सहयोग से निर्धन परिवारों कि उन कन्याओं की शादियों में सहयोग करें जो शिक्षा में विशेष स्थान प्राप्त कर चुकी हैं ,या किसी और क्षेत्र में देश का नाम रोशन कर चुकी हैं ,लेकिन धन की कमी से उनकी धनाढ्य और संस्कारित परिवारो में शादियां नहीं हो पा रहीं !उनके निर्धन परिवार जातियों और सामाजिक बंधनों के कारण खुले रूप से मदद भी नहीं माँग सकते !
                       "5th पिल्लर करप्शन किल्लर "नामक ब्लॉग ने ये सोचा है कि इस क्षेत्र में आगे बढ़ा जाए और आप सब मित्रों से धन एकत्रित करके ऐसी प्रतिभावान कन्याओं की शादियाँ प्रतिष्ठित परिवारों में धूम-धाम से करवाई जाएँ ! अगर आप सब मित्र हमारे इन विचारों से सहमत हैं तो निम्नलिखित नाम पते और बैंक अकाउंट में जयादा से ज्यादा धन राशि जमा करवाएं जिससे हम ये पवित्र कार्य परमात्मा की अनुकम्पा से करवा सकें ! क्योंकि हर कार्य ईश्वर ही करवाता है , हम और आप तो सिर्फ एक माध्यम भर हैं !वैसे भी "कन्यादान "में सहयोग करना सबसे बड़ा पुण्य-कार्य होता है जी !हर कन्या की शादी में सभी सहयोगियों को भी निमन्त्ण भेजा जाएगा ! उनकी शादी उनके घर पर अलग से ही करवाई जायेगी , किसी संयुक्त कार्यक्रम में या एक ही दिन में नहीं करवाई जाएँगी! उनकी शादी में दिया गया सहयोग दर्शाया नहीं जाएगा !ऐसी शादियों में काम से काम पांच लाख और अधिकतम पन्द्रह लाख तक एक शादी में खर्च किया जाएगा !परस्थितियों के अनुसार निर्णय होगा !!इसलिए आप सब ज्यादा से ज्यादा धनराशि निम्न बैंक अकाउंट में जमा करवाएं ! सभी दानी सज्जनों के नाम और आशी का हिसाब-किताब इसी ब्लॉग पर समय-समय पर प्रदर्शित किया जाता रहेगा !! आइये एक नया कदम उठायें , मानवता को और महान बनाएं !आपके सुझाव भी सादर आमंत्रित हैं !
       सधन्यवाद !!
                                     आपका अपना 
                                 पीताम्बर दत्त शर्मा 
                              बैंक खाता न. - 65076153897 
                             स्टेट बैंक आफ पटियाला ,
                          ब्रांच सूरतगढ़  .राजस्थान भारत   

 " आकर्षक - समाचार ,लुभावने समाचार " आप भी पढ़िए और मित्रों को भी पढ़ाइये .....!!!



मेरा मोबाईल नंबर ये है :- 09414657511. 01509-222768. धन्यवाद !!
आपका प्रिय मित्र ,
पीताम्बर दत्त शर्मा,
हेल्प-लाईन-बिग-बाज़ार,
R.C.P. रोड, सूरतगढ़ !
जिला-श्री गंगानगर।



Posted by PD SHARMA, 09414657511 (EX. . VICE PRESIDENT OF B. J. P. CHUNAV VISHLESHAN and SANKHYKI PRKOSHTH (RAJASTHAN )SOCIAL WORKER,Distt. Organiser of PUNJABI WELFARE


   

Monday, February 1, 2016

"क्या छात्रसंघ,राजनितिक दल और सामाजिक संगठनों में देशद्रोही नहीं हो सकते"? - पीताम्बर दत्त शर्मा (लेखक-विश्लेषक) मो. न. - 9414657511

   माननीय अन्ना हज़ारे जी ने अपने "जन-लोकपाल"आंदोलन में कहा था कि "भारत के संविधान में राजनितिक दलों का कोई स्थान नहीं है ,"वैसे ही संविधान में "उग्र प्रदर्शनों"का भी कोई स्थान नहीं है !लेकिन 1947 के बाद कॉमरेडों-कांग्रेसियों ने आपसी रज़ामंदी से ऐसा "जुगाड़"बना लिया कि दोनों दल एक दुसरे के हितों की पूर्ती हेतु कामरेड धरने-प्रदर्शन  लगे और कोंग्रेसी उनकी जायज़-नाजायज़ मांगें मानने लगे !अपने स्वार्थों की पूर्ती हेतु हर स्तर पर छद्म संगठन भी बना लिए ! 
                    चाहे वो nsui.हो या fitta,aisa.abvp.हो या sfi. सब प्रदर्शनों में तोड़फोड़ करते हैं ! यहां तलक कि राजनितिक दल चाहे कोई भी हो अपने धरनो-प्रदर्शनों में देश की सम्पत्ति को नुक्सान पंहुचाते रहते हैं और बाद में मुकर भी जाते हैं !विदेशी पैसा भी इसमें जब लगता है, तो क्या गारंटी है कि इस प्रकार के प्रदर्शनों में विदेशी "हित"नहीं साधे जाते होंगे ?? मेरी तो देश की सुरक्षा एजेंसियों से गुज़ारिश है कि वो सभी राजनितिक दलों के धरने-प्रदर्शनों पर अपनी पैनी नज़र रख्खा ही करें ! सरकार को भी सभी राजनितिक धरने-प्रदर्शनों हेतु ऐसे सख्त क़ानून बना देने चाहियें ताकि देश का नुक्सान ना हो !!
                    आम जनता से भी मेरी ये अपील है कि किसी भी धरने-प्रदर्शन में शामिल होने से पहले उसके उद्देश्यों के बारे में अच्छी तरह से जानकारी प्राप्त करलें !ताकि आप गलती से "देश-द्रोही"कार्यवाही में शामिल ना हो जाएँ ! चाहे वो प्रदर्शन आरक्षण या जाती-धर्म से ही सम्बंधित क्यों ना हो ! समय बहुत बुरा चल रहा है जी ! "बचाव में ही बचाव है " जी !! 
                     पैसे लेकर कोई  कुछ भी बोल-कह और सुन !  जय-हिन्द !   " आकर्षक - समाचार ,लुभावने समाचार " आप भी पढ़िए और मित्रों को भी पढ़ाइये .....!!!


मेरा मोबाईल नंबर ये है :- 09414657511. 01509-222768. धन्यवाद !!
आपका प्रिय मित्र ,
पीताम्बर दत्त शर्मा,
हेल्प-लाईन-बिग-बाज़ार,
R.C.P. रोड, सूरतगढ़ !
जिला-श्री गंगानगर।



Posted by PD SHARMA, 09414657511 (EX. . VICE PRESIDENT OF B. J. P. CHUNAV VISHLESHAN and SANKHYKI PRKOSHTH (RAJASTHAN )SOCIAL WORKER,Distt. Organiser of PUNJABI WELFARE




आखिर अंबेडकर को पीएम के तौर पर देखने की बात कभी किसी ने क्यों नहीं की ? -साभार :- श्री मान पुण्य प्रसुन्न वाजपेयी जी !

नेहरु की जगह सरदार पटेल पीएम होते तो देश के हालात कुछ और होते । ये सवाल नेहरु या कांग्रेस से नाराज हर नेता या राजनीतिक दल हमेशा उठाते रहे ...