Posts

"अजी हम थोड़ा बेवफ़ा क्या हुए ? आप तो बदचलन हो गए "? - पीताम्बर दत्त शर्मा (लेखक-विश्लेषक) मो.-9414657511. लिंक - www.pitamberduttsharma.blogspot.com

"आज की प्रोफैशनल होती हुई भाजपा,पुराने विचारधारा-युक्त और निष्ठावान कार्यकर्ताओं को, गंगा जी में तारने जा रही है क्या"?- पीताम्बर दत्त शर्मा (लेखक-विश्लेषक)

"एक सार्वजनिक प्रार्थना-पत्र , सर्वोच्च न्यायालय के माननीय न्यायाधीश के नाम "- पीताम्बर दत्त शर्मा (लेखक-विश्लेषक) मो. न.- 94146-57511.

" और भाई साहिब , क्या हाल हैं आपकी भाजपा के ? मैंने तो छोड़ दी जी राजनीती "!!- पीताम्बर दत्त शर्मा (लेखक-विश्लेषक) - 94146-57511.

"अमीरों - नेताओं का अदालत,थाने और जेल आना - जाना ऐसा है, जैसे ससुराल गैंदा फूल हो "??-पीताम्बर दत्त शर्मा (लेखक-विश्लेषक)

"उमा" कहे ये अनुभव अपना ...."..!!-पीताम्बर दत्त शर्मा ( लेखक-विश्लेषक)

" जो नेता अपने संसदीय क्षेत्र में ही असफल साबित हो चुके हैं , उन्हें हमलोग और मीडिया देश की बागडोर सम्भलवाने हेतु क्यों आजमाना चाहते हैं "?- पीताम्बर दत्त शर्मा ( लेखक-विश्लेषक)

"हो के मजबूर मुझे , उसने भुलाया होगा !ज़हर भी दवा जान के खाया होगा "! हिंदी-चीनी भाई-भाई !!-पीताम्बर दत्त शर्मा ( लेखक-विश्लेषक )

"सियोल के रक्षामंत्री को एक गुप्त रक्षा कार्यक्रम में सोने और तानाशाह से बहसने के आरोप में तोप से उड़ा दिया ",क्या ऐसी न्याय व्यवस्था भारत में होने पर हम सुधरेंगे ??- पीताम्बर दत्त शर्मा ( लेखक-विश्लेषक )

" आज का पत्रकार क्या करना चाहता है ? जागृत समाज की रचना या बुराइयों में सहयोग ??- पीताम्बर दत्त शर्मा ( लेखक-विश्लेषक )

"साठ महीनों में से बारह महीने गुज़र गए मोदी जी " !!- पुण्य प्रसुन वाजपेयी जी से साभार !