Sunday, September 28, 2014

कौन है गठबंधन तोड़ने वाले "खलनायक' !



कौन नहीं चाहता था गठबंधन । महाराष्ट्र की सियासत में लाख टके का सवाल अब यही हो गया है । शिवसेना कयास लगा रही है कि बीजेपी की राज्य इकाई को यह संकेत दिल्ली से आया। बीजेपी कयास लगा रही है उट्टव ठाकरे की कोटरी जिसमें सबसे शक्तिसाली रश्मी ठाकरे हैं, उनका संकेत था । आरएसएस के भीतर कयास लग रहे हैं कि बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह को उपर का संकेत था यानी प्रधानमंत्री मोदी से। अगर कयास सही है तो संकेत साफ है कि शिवसेना-बीजेपी का गठबंधन हर हाल में टूटना था और दोनो तरफ से सबसे प्रभावी या कहे ताकतवर लोग ही नहीं चाहते थे कि गठबंधन रहे। क्योंकि शिवसेना प्रमुख की पत्नी रश्मी ठाकरे मौजूदा वक्त में सबसे ताकतवर है और गठबंधन टूटने के बाद बीजेपी के भीतर से लगातार यही आवाज आ रही है कि उद्दव ठाकरे की राजनीतिक महत्वकांक्षा को उड़ान देने के लिये परिवार की ही वह कोटरी है जो शिवसेना के हर निर्णय को लेने में सक्षम है। इस कोटरी में कोई बाहरी शिवसैनिक नहीं है बल्कि ठाकरे परिवार के ही सदस्य है। और उद्दव ठाकरे का हर निर्णय इससे प्रभावित होता है।

इसीलिये जो ठाकरे परिवार हमेशा किंगमेकर की भूमिका में रहा वह पहली बार किंग बनने का खुला ऐलान करने से नहीं कतरा रहा है। कमोवेश बीजेपी के गठबंधन टूटने के बाद ठाकरे परिवार की इसी महत्वकांक्षा का जिक्र संघ परिवार से किया। चूंकि संघ परिवार नहीं चाहता था कि महाराष्ट्र में गठबंधन टूटे तो बीजेपी की तरफ से आरएसएस को जानकारी भी यही दी गयी ही मौजूदा वक्त में ठाकरे परिवार की बडी हुई महत्वाकांक्षा का चेहरा बालासाहेब ठाकरे से अलग है। बालासाहेब ठाकरे दूर की सोच कर निर्णय लेते थे। लेकिन मौजूदा ठाकरे परिवार सिर्फ तत्काल को देख रहा है और बीजेपी की ताकत जब शिवसेना से ना सिर्फ ज्यादा है बल्कि साथ लड़ने पर बीजेपी के वोट का लाभ ही शिवसेना को मिलेगा तो फिर बीजेपी अपनी ताकत का लाभ शिवसेना को क्यों पहुंचाये । वहीं ठाकरे परिवार के भीतर बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह को लेकर कहीं ज्यादा रार है। हालांकि चुनाव ऐलान से एन पहले अमित शाह मुबंई यात्रा के वक्त उद्दव ठाकरे से मिलने घर पर भी गये थे और बालासाहेब की समाधि पर पर भी गये थे।

लेकिन शिवसेना के साथ कितनी सीदो पर चुनाव लड़ना है, इस पर खुलकर कोई बातचीत करने की जगह तब भी सिर्फ इतना ही कहा था कि बीजेपी की राज्य इकाई से बातचीत के बात ही फैसला होगा। यानी दिल्ली के हर फैसले का आधार राज्य ईकाई की रिपोर्ट होगी इसका जिक्र तभी कर दिया गया था । लेकिन शिवसेना की मुश्किल दिल्ली में मोदी सरकार के आने के बाद कही ज्यादा तेजी से मुंबई में बढ़ी इसके संकेत शिवसेना के दादर दफ्तर के भीतर पार्टी के लिये मिलने वाले दान में आयी कमी या कहे वसूली से भी देखा गया। और इसकी वजह गुजरातियों का शिवसेना की जगह सीधे दिल्ली में मोदी सरकार से संपर्क साधना माना गया । ध्यान दें तो मुबंई में गुजरातियो के धंधे कहीं ज्यादा है। सूरत के हीरो के कारोबार का तो सबसे बडा बाजार ही मुबंई है, जहां हर डायमंड मर्चेट का दफ्तर है। और मुबंई से ही दुनिया भर में हीरों का व्यापार होता है। शिवसेना के साथ गुजराती व्यापारियों का लेन-देन  बालासाहेब ठाकरे के दौर का है। लेकिन दिल्ली में मोदी सरकार के आने के बाद अमित साह के बीजेपी अध्यक्ष बनते ही मुंबई के गुजरातियों का रास्ता भी बदला और गुजरात से मुबंई की दूरी झटके में दिल्ली की तुलना में ज्यादा हो गयी। शिवसेना के लिये यह सबसे बड़ा झटका माना गया। इसीलिये चुनाव से पहले ही सीएम पद पर दावेदारी टोकं कर उद्दव ने बीजेपी से दो दो हाथ करने का मन भी बनाया और पार्टी के भीतर इसके संकेत भी दिये कि महाराष्ट्र में सत्ता की लगाम तो ठाकरे परिवार के पास ही रहेगी।

तो फिर चुनाव के बाद सारे संकट निपट जायेंगे। वैसे भी उद्दव यह दांव ना खेलते तो शिवसेना की ताकत कम ही होती क्योकि पहली बार बालासाहेब ठाकरे की 50 बरस की सियासत पर मोदी मंत्र भारी है यह बीजेपी मान कर चल भी रही है और उसे भरोसा भी है कि महाराष्ट्र की राजनीति में उसके बिना शिवसेना हाशिये पर जा चुकी है। हालांकि एक सच यह भी है कि बालासाहेब ठाकरे ने कभी नरेन्द्र मोदी की तारीफ इस रुप में नहीं कि की वह पीएम बन सकते हैं। और जब बीजेपी के भीतर पीएम पद को लेकर संघर्ष चल भी रहा था तब बालासाहेब ने मोदी का नहीं सुषमा स्वराज का नाम लिया था। वैसे शिवसेना ही नहीं बल्कि बीजेपी के भीतर का एक बड़ा तबका मानता है कि प्रधानमंत्री मोदी कभी चाहते ही नहीं थे कि शिवसेना से गठबंधन रहे। क्योंकि लोकसभा जीत के बाद अपने बूते महाराष्ट्र जीता जा सकता है यह पाठ बीजेपी के भीतर दिल्ली से मुबंई तक बार बार पढ़ा गया। सवाल सिर्फ इस पाठ को परीक्षा में उतारने का था। और इसके लिये दिन वही चुना गया जब प्रधानमंत्री मोदी अमेरिका रवाना हो जाये । इसलिये 25 सिंतबर की शाम 4 बजे प्रदानमंत्री मोदी के दिल्ली से  न्यूयार्क रवाना होने से ठीक दस मिनट पहले मुबंई में बीजेपी नेता खुलकर सामने आ गये और शिवसेना से गठबंधन टूटने के खुले संकेत दे दिये । हिन्दुत्व का राग अलापते अलापते महाराष्ट्र में बने इस गठबंधन के टूटने का खुला संकेत संघ परिवार के भीतर यही गया कि दिल्ली नहीं चाहता ता कि शिवसेना के साथ मिलकर चुनाव लडे तो गठबंधन टूट गया। हालांकि दिल्ली की थ्योरी में शिवसेना से मोदी या अमित शाह के ना पटने से कहीं ज्यादा जीत का पक्का भरोसा जताना रहा। राज्य ईकाई के आंकड़ों का जिक्र कर बीजेपी ने अपने बूते सवा सौ सौट जीतने का जिक्र किया। जिसमें विदर्भ की 62 में 45 सीटों, मराठवाडा की 47 में से 17 , उत्तर महाराषट्र की 47 सीटे में से 30 सीट, पश्चिम महाराष्ट्र की 58 में 17 और मुबंई की 36 में से 15 सीटें पर पक्की जीत का दावा किया गया। यानी आधार कही ना कही लोकसभा चुनाव की सफलता को ही रखा गया। खास बात यह भी है कि बीजेपी के इन आंकडों पर संघ के भीतर अब यह कसमसाहट है कि लोकसभा चुनाव के वक्त तो संघ का हर स्वयंसेवक वोट मांगने निकला था। राजनीतिक सक्रियता पैदा करने निकला था ।

लेकिन महाराष्ट्र चुनाव के वक्त तो संघ का कोई स्वयंसेवक नहीं निकलेगा तो खुद ही तय हो जायेगा कि बीजेपी का आधार है कितना मजबूत। वहीं गठबंधन टूटने के पीछे की वजहों की कयास में महाराष्ट्र की उस तिकड़ी का नाम भी है जो आधार वाले नेता हैं। पैसे वालों के बीच खासे लोकप्रिय हैं। और अपनी अपनी सियासत के घेरे में सबसे ताकतवर भी हैं। इनमें पहला नाम शरद पवार का है । जो कांग्रेस के किसी हालत में पनपने देना नहीं चाहते हैं। दूसरे राजठाकरे हैं । जो गठबंधन के दौर में हर सौदेबाजी के दायरे से बाहर हो जाते । और तीसरे नीतिन गडकरी है । जो महाराष्ट्र में बीजेपी के सबसे ताकतवर चेहरे हैं। लेकिन गठबंधन बरकरार रहता तो इनकी जरुरत किसी को ना होती । और संयोग ऐसा है कि यह तीनों के आपसी संबंध भी है । और तीनो चुनाव के बाद किसी भी सरकार को बनाने में सबसे महत्वपूर्ण भूमिका निभायेंगे। यह किसी से छुपा भी नहीं है। तो गठबंधन का टूटना अपनी अपनी बिसात पर खुद को प्यादे से वजीर बनाने या मानने की खूबसूरत कवायद से इतर कुछ भी नहीं। असल वजीर तो चुनावी के बाद की बिसात पर सरकार बनाने वाले की चाल से तय होगा। फिलहाल तो हर नजर में दूसरे को लेकर शक-शुबहा ह!



" इन्टरनेट सोशियल मीडिया ब्लॉग प्रेस "
" फिफ्थ पिल्लर - कारप्शन किल्लर "
की तरफ से आप सब पाठक मित्रों को आज के दिन की
हार्दिक बधाई और ढेर सारी शुभकामनाएं !!नए बने मित्रों का हार्दिक स्वागत-अभिनन्दन स्वीकार करें !
जिन मित्रों का आज जन्मदिन है उनको हार्दिक शुभकामनाएं और बधाइयाँ !!
ये दिन आप सब के लिए भरपूर सफलताओं के अवसर लेकर आये , आपका जीवन सभी प्रकार की खुशियों से महक जाए " !!
मित्रो !! मैं अपने ब्लॉग , फेसबुक , पेज़,ग्रुप और गुगल+ को एक समाचार-पत्र की तरह से देखता हूँ !! आप भी मेरे ओर मेरे मित्रों की सभी पोस्टों को एक समाचार क़ी तरह से ही पढ़ा ओर देखा कीजिये !!
" इन्टरनेट सोशियल मीडिया ब्लॉग प्रेस "" फिफ्थ पिल्लर - कारप्शन किल्लर "- आपका अपना ऑन - लाईन समाचार-पत्र !! रोज़ाना पढ़िए , मित्रों संग शेयर कीजिये और अपने अनमोल कॉमेंट भी अवश्य लिखिए !!
प्रिय मित्र,सादर नमस्कार !!
आपसे मित्रता करके मुझे अत्यंत प्रसन्नता हो रही है ! आपके जनम दिन की आपको हार्दिक बधाई और शुभ कामनाएं !! कृपया स्वीकार करें ! आपका जीवन सदा खुशियों से भरा रहे !! मेरा फेसबुक,गूगल+,ब्लॉग,पेज और विभिन्न ग्रुपों की सदस्य्ता ग्रहण करने का एक ख़ास उद्देश्य है ! मैं एक लेखक-विश्लेषक और एक समीक्षक हूँ ! राष्ट्रीय-अंतराष्ट्रीय ज्वलंत विषयों पर लिखना -पढ़ना मेरा शौक है ! मैं एक साधारण पढ़ालिखा और साफ़ स्वभाव का आदमी हूँ ! भारतीय संस्कृति और सनातन धर्म से प्यार करता हूँ ! भारत देश के लिए अगर मेरे प्राण काम आ सकें तो मैं इसे अपना सौभाग्य मानूंगा !परन्तु किसी संत-राजनितिक दल और नेता हेतु नहीं !मैं एक बिन्दास स्वभाव का आदमी हूँ ! मेरी मित्र मण्डली में मेरे बच्चे और रिश्तेदार भी शामिल हैं ! तो भी मैं सभी विषयों पर अपने खुले विचार रखता हूँ !! आप सब का हार्दिक स्वागत है मेरे जीवन में !! मैं आपकी यादों - बातों को संभल कर रखूँगा !!
मित्रो !! मैं अपने ब्लॉग , फेसबुक , पेज़,ग्रुप और गुगल+ को एक समाचार-पत्र की तरह से देखता हूँ !! आप भी मेरे ओर मेरे मित्रों की सभी पोस्टों को एक समाचार क़ी तरह से ही पढ़ा ओर देखा कीजिये !!
" 5TH PILLAR CORRUPTION KILLER " नामक ब्लॉग ( समाचार-पत्र ) के पाठक मित्रों से एक विनम्र निवेदन - - - !!
आपका हार्दिक स्वागत है हमारे ब्लॉग ( समाचार-पत्र ) पर, जिसका नाम है - " 5TH PILLAR CORRUPTIONKILLER " कृपया इसे एक समाचार-पत्र की तरह ही पढ़ें - देखें और अपने सभी मित्रों को भी शेयर करें ! इसमें मेरे लेखों के इलावा मेरे प्रिय लेखक मित्रों के लेख भी प्रकाशित किये जाते हैं ! जो बड़े ही ज्ञान वर्धक और ज्वलंत - विषयों पर आधारित होते हैं ! इसमें चित्र भी ऐसे होते हैं जो आपको बेहद पसंद आएंगे ! इसमें सभी प्रकार के विषयों को शामिल किया जाता है जैसे - शेयरों-शायरी , मन-www.pitamberduttsharma.blogspot.com.,ये समाचार पत्र आपको टविटर , गूगल+,पेज़ और ग्रुप पर भी मिल जाएगा ! ! अतः ज्यादा से ज्यादा संख्या में आप हमारे मित्र बने अपनी फ्रेंड रिक्वेस्ट भेज कर इसे सब पढ़ें !! आपके जीवन में ढेर सारी खुशियाँ आयें इसी मनोकामना के साथ !! हमेशां जागरूक बने रहें !! बस आपका सहयोग इसी तरह बना रहे !! मेरा इ मेल ये है : - pitamberdutt.sharma@gmail.com. मेरे ब्लॉग और फेसबुक के लिंक ये हैं :-www.facebook.com/pitamberdutt.sharma.7. मेरा ई मेल पता ये है -: pitamberdutt.sharma@gmail.com.
जो अभी तलक मेरे मित्र नहीं बन पाये हैं , कृपया वो जल्दी से अपनी फ्रेंड-रिक्वेस्ट भेजें , क्योंकि मेरी आई डी तो ब्लाक रहती है ! आप सबका मेरे ब्लॉग "5th pillar corruption killer " व इसी नाम से चल रहे पेज , गूगल+ और मेरी फेसबुक वाल पर हार्दिक स्वागत है !!
आप सब जो मेरे और मेरे मित्रों द्वारा , सम - सामयिक विषयों पर लिखे लेख , टिप्प्णियों ,कार्टूनो और आकर्षक , ज्ञानवर्धक व लुभावने समाचार पढ़ते हो , उन पर अपने अनमोल कॉमेंट्स और लाईक देते हो या मेरी पोस्ट को अपने मित्रों संग बांटने हेतु उसे शेयर करते हो , उसका मैं आप सबका बहुत आभारी हूँ !
आशा है आपका प्यार मुझे इसी तरह से मिलता रहेगा !!आपका क्या कहना है मित्रो ??अपने विचार अवश्य हमारे ब्लॉग पर लिखियेगा !!
सधन्यवाद !!
आपका प्रिय मित्र,
पीताम्बर दत्त शर्मा,
हेल्प-लाईन-बिग-बाज़ार,
R.C.P. रोड, सूरतगढ़ !
जिला-श्री गंगानगर।
मोबाईल नंबर-09414657511
" आकर्षक - समाचार ,लुभावने समाचार " आप भी पढ़िए और मित्रों को भी पढ़ाइये .....!!!
BY :- " 5TH PILLAR CORRUPTION KILLER " THE BLOG . READ,SHARE AND GIVE YOUR VELUABEL COMMENTS DAILY . !!
Posted by PD SHARMA, 09414657511 (EX. . VICE PRESIDENT OF B. J. P. CHUNAV VISHLESHAN and SANKHYKI PRKOSHTH (RAJASTHAN )SOCIAL WORKER,Distt. Organiser of PUNJABI WELFARE SOCIETY,Suratgarh. (raj)INDIA.

Tuesday, September 23, 2014

बाप का माल है !! बपौती हमारी !!-पीताम्बर दत्त शर्मा पेश करता है श्रीमान कमल कुमार सिंह जी का एक प्यारा " व्यंग " !!


बपौती



बपौती काई प्रकार कि होती है, एक तो  बाप का माल, हलाकि जो ये समझता है वो खुद भी अपने बाप का माल ही होता है भले वो अपने आपको बाप का माल समझे या नहीं या अपने बाप को ही घुड़क दे, लेकिन बाकी वस्तुवो को बाप का माल समझने वाला एक खास किस्म का दिमागी योध्धा होता है, जो बिना किसी से लड़े ही सबको अपने बाप का माल मानता है। 

जैसे किसी ज़माने सवर्ण दलित को अपने बाप का माल समझता था, मुसलमान कुरआन और मोहम्मद को अपने बाप का माल समझता है, आशाराम अपने महिला  भक्तो को अपने बाप का माल समझते है, बोस अपने मातहत को अपने बाप का माल समझता है, पुरुष स्त्री को अपने बाप का माल समझता है, स्त्री पुरुष  के माँ बाप को अपने बाप का माल समझती है,  दलित वाल्मीकि जी  को अपने  बाप का माल समझता है, सवर्ण परशुराम को अपने बाप का माल समझता है, कुत्ता तक दूसरों के जूठन को अपने बाप का माल समझता है। यानि सबके बाप के माल केटेगराईज्ड है। 

इसी कड़ी में नेता सबको धता बना अपना प्रथम स्थान बार बार लगातार कायम किये रखे हुए है, नेता मुसलमान के वोट को अपने बाप का माल समझते है। इसी परम्परा को को आगे  बढ़ाते हुए अपने प्रधान मंत्री मनमोहन जी मंद गति से  व्याख्यान दिया कि सरदार पटेल कोंग्रेस के थे, पहली बात मनमोहन जी जिस जनता को आप और आपके कोंग्रेस "आई" पिछले 40  सालो से बेवकूफ बना रहे है कि आप कोंग्रेसी हो  तो यही पे आपकी जबान लड़खड़ा जानी चाहिए थी . जिस कोंग्रेस का होने का दम आप भरते हो तो इंद्रा जी ने सिंडिकेट के खिलाफ हो कोंग्रेस से अलग हो कोंग्रेस आई बना डाली थी, यानि तलाक ले के एलुमनी लेने के बाद भी दौलत पे बारबरा नजर बनाये हैं आप जो गैर कानूनी है, इसी प्रकार से कोंग्रेस से अलग हो श्यामा  प्रसाद मुखर्जी ने इंद्रा से पहले ही आर एस एस बनाया था, तो सरदार पटेल, कोंग्रेस "आई" अर्थात आपके कैसे हुए ?  ? ये तो हुयी ओछी बात का जवाब ओछी बात से . 

अब आगे बढ़ते है, प्रधान मंत्री जी कुछ दिनों पहले मोदी ने अपने मंच से कहा था , आप से विचारो कि लड़ाई हो सकती है लेकिन आप अभी हमारे प्रधान मंत्री है, तो क्या आपने ये साबित नहीं  कर दिया कि आपका कद और दिल भी प्रधान मंत्री हो के भी मोदी से बहुत छोटा है जो कि महापुरुषो को खेमे में बाँट रहे है। क्या आप ये कह रहे है कि आपको प्रधान मंत्री इस देश का नहीं बल्कि कोंग्रेस का माना जाना चाहिए ? क्या आप ये कहना चाहते है  कि भाजपा, और गैर कोंग्रेस दल आपको प्रधान मंत्री मानने से इंकार दे ? 

आप इस देश के प्रधानमंत्री है, टी वी पे आके रात के अंधेरो के मालिक  सिंघवी ब्रांड टाइप का ओछा बयांन  देना कौन सा बड्डप्प्न है? 

खैर  इससे जादा आपसे जादा आशा कि भी नहीं जा सकती थी, क्योकि जिस राजीनीतिक दल से आप हो वहाँ सिक्का (खोटा  ही सही ) बस एक परिवार का चलता है, नकली गांधी परिवार का असली महात्मा गांधी के अभी जीवित चिराग तुसार गांधी किस चिड़िया का नाम है देश का अस्सी प्रतिशत युवा नहीं जानता होगा. नकली गांधी  पुरे देश को अपने बाप का माल मानता है, तभी इंद्रा देश कि बेटी हो गयी और राजिव देश का बेटा , सोनिया देश कि बहु हो गयी (कोंग्रेसियो कि नजर में ) और राहुल देश का पप्पू, राहुल को पता है कि वो पप्पू है फिर भी देश पे अपने अधिकार जताने से नहीं चुक रहे, मुसलमान तो उनके बाप के नौकर के  माल है
माना कि कोंग्रेस देश को अपनी बपौती मान  खूब ,कोयला , जमीं आसमान हवा सब बेच रही है,  आप लोग आपने राजीनीति के लिए कुछ भी करते रहिये कोई आपत्ति नहीं, कम से कम अब महापुरुषो पे एकाध्किार तो छोड़िये महाराज, नहीं तो गैर कोंग्रेसी दल आपको अपना प्रधान मंत्री मनाने से खारिज कर देंगे तब मत रोइएगा और न ही डुबियेगा,  चुल्लू भर पानी में। 

मेरा इस तरह का कुछ भी लिखने का रत्ती भर मन  नहीं था मनमोहन जी, लेकिन आप अपने आपको शायद देश का प्रधान मंत्री बाद, पहले कोंग्रेसी मानते हो, तो इस तरह का कुछ तो बनता ही था. 

आज सादर भी लिखने का मन नहीं कर रहा, यूँ ही लिख देता हूँ नीचे अपना नाम .

कमल कुमार सिंह जी से साभार किया है !! अपनी बपौती मानकर !!- पीताम्बर दत्त शर्मा 


" इन्टरनेट सोशियल मीडिया ब्लॉग प्रेस "
" फिफ्थ पिल्लर - कारप्शन किल्लर "
की तरफ से आप सब पाठक मित्रों को आज के दिन की
हार्दिक बधाई और ढेर सारी शुभकामनाएं !!नए बने मित्रों का हार्दिक स्वागत-अभिनन्दन स्वीकार करें !
जिन मित्रों का आज जन्मदिन है उनको हार्दिक शुभकामनाएं और बधाइयाँ !!
ये दिन आप सब के लिए भरपूर सफलताओं के अवसर लेकर आये , आपका जीवन सभी प्रकार की खुशियों से महक जाए " !!
मित्रो !! मैं अपने ब्लॉग , फेसबुक , पेज़,ग्रुप और गुगल+ को एक समाचार-पत्र की तरह से देखता हूँ !! आप भी मेरे ओर मेरे मित्रों की सभी पोस्टों को एक समाचार क़ी तरह से ही पढ़ा ओर देखा कीजिये !!
" इन्टरनेट सोशियल मीडिया ब्लॉग प्रेस "" फिफ्थ पिल्लर - कारप्शन किल्लर "- आपका अपना ऑन - लाईन समाचार-पत्र !! रोज़ाना पढ़िए , मित्रों संग शेयर कीजिये और अपने अनमोल कॉमेंट भी अवश्य लिखिए !!
प्रिय मित्र,सादर नमस्कार !!
आपसे मित्रता करके मुझे अत्यंत प्रसन्नता हो रही है ! आपके जनम दिन की आपको हार्दिक बधाई और शुभ कामनाएं !! कृपया स्वीकार करें ! आपका जीवन सदा खुशियों से भरा रहे !! मेरा फेसबुक,गूगल+,ब्लॉग,पेज और विभिन्न ग्रुपों की सदस्य्ता ग्रहण करने का एक ख़ास उद्देश्य है ! मैं एक लेखक-विश्लेषक और एक समीक्षक हूँ ! राष्ट्रीय-अंतराष्ट्रीय ज्वलंत विषयों पर लिखना -पढ़ना मेरा शौक है ! मैं एक साधारण पढ़ालिखा और साफ़ स्वभाव का आदमी हूँ ! भारतीय संस्कृति और सनातन धर्म से प्यार करता हूँ ! भारत देश के लिए अगर मेरे प्राण काम आ सकें तो मैं इसे अपना सौभाग्य मानूंगा !परन्तु किसी संत-राजनितिक दल और नेता हेतु नहीं !मैं एक बिन्दास स्वभाव का आदमी हूँ ! मेरी मित्र मण्डली में मेरे बच्चे और रिश्तेदार भी शामिल हैं ! तो भी मैं सभी विषयों पर अपने खुले विचार रखता हूँ !! आप सब का हार्दिक स्वागत है मेरे जीवन में !! मैं आपकी यादों - बातों को संभल कर रखूँगा !!
मित्रो !! मैं अपने ब्लॉग , फेसबुक , पेज़,ग्रुप और गुगल+ को एक समाचार-पत्र की तरह से देखता हूँ !! आप भी मेरे ओर मेरे मित्रों की सभी पोस्टों को एक समाचार क़ी तरह से ही पढ़ा ओर देखा कीजिये !!
" 5TH PILLAR CORRUPTION KILLER " नामक ब्लॉग ( समाचार-पत्र ) के पाठक मित्रों से एक विनम्र निवेदन - - - !!
आपका हार्दिक स्वागत है हमारे ब्लॉग ( समाचार-पत्र ) पर, जिसका नाम है - " 5TH PILLAR CORRUPTION KILLER " कृपया इसे एक समाचार-पत्र की तरह ही पढ़ें - देखें और अपने सभी मित्रों को भी शेयर करें ! इसमें मेरे लेखों के इलावा मेरे प्रिय लेखक मित्रों के लेख भी प्रकाशित किये जाते हैं ! जो बड़े ही ज्ञान वर्धक और ज्वलंत - विषयों पर आधारित होते हैं ! इसमें चित्र भी ऐसे होते हैं जो आपको बेहद पसंद आएंगे ! इसमें सभी प्रकार के विषयों को शामिल किया जाता है जैसे - शेयरों-शायरी , मनोरंजक घटनाएँ आदि-आदि !! इसका लिंक ये है -www.pitamberduttsharma.blogspot.com.,ये समाचार पत्र आपको टविटर , गूगल+,पेज़ और ग्रुप पर भी मिल जाएगा ! ! अतः ज्यादा से ज्यादा संख्या में आप हमारे मित्र बने अपनी फ्रेंड रिक्वेस्ट भेज कर इसे सब पढ़ें !! आपके जीवन में ढेर सारी खुशियाँ आयें इसी मनोकामना के साथ !! हमेशां जागरूक बने रहें !! बस आपका सहयोग इसी तरह बना रहे !! मेरा इ मेल ये है : - pitamberdutt.sharma@gmail.com. मेरे ब्लॉग और फेसबुक के लिंक ये हैं :-www.facebook.com/pitamberdutt.sharma.7. मेरा ई मेल पता ये है -: pitamberdutt.sharma@gmail.com.
जो अभी तलक मेरे मित्र नहीं बन पाये हैं , कृपया वो जल्दी से अपनी फ्रेंड-रिक्वेस्ट भेजें , क्योंकि मेरी आई डी तो ब्लाक रहती है ! आप सबका मेरे ब्लॉग "5th pillar corruption killer " व इसी नाम से चल रहे पेज , गूगल+ और मेरी फेसबुक वाल पर हार्दिक स्वागत है !!
आप सब जो मेरे और मेरे मित्रों द्वारा , सम - सामयिक विषयों पर लिखे लेख , टिप्प्णियों ,कार्टूनो और आकर्षक , ज्ञानवर्धक व लुभावने समाचार पढ़ते हो , उन पर अपने अनमोल कॉमेंट्स और लाईक देते हो या मेरी पोस्ट को अपने मित्रों संग बांटने हेतु उसे शेयर करते हो , उसका मैं आप सबका बहुत आभारी हूँ !
आशा है आपका प्यार मुझे इसी तरह से मिलता रहेगा !!आपका क्या कहना है मित्रो ??अपने विचार अवश्य हमारे ब्लॉग पर लिखियेगा !!
सधन्यवाद !!
आपका प्रिय मित्र,
पीताम्बर दत्त शर्मा,
हेल्प-लाईन-बिग-बाज़ार,
R.C.P. रोड, सूरतगढ़ !
जिला-श्री गंगानगर।
मोबाईल नंबर-09414657511
" आकर्षक - समाचार ,लुभावने समाचार " आप भी पढ़िए और मित्रों को भी पढ़ाइये .....!!!
BY :- " 5TH PILLAR CORRUPTION KILLER " THE BLOG . READ,SHARE AND GIVE YOUR VELUABEL COMMENTS DAILY . !!
Posted by PD SHARMA, 09414657511 (EX. . VICE PRESIDENT OF B. J. P. CHUNAV VISHLESHAN and SANKHYKI PRKOSHTH (RAJASTHAN )SOCIAL WORKER,Distt. Organiser of PUNJABI WELFARE SOCIETY,Suratgarh. (raj)INDIA.

Friday, September 19, 2014

  " इन्टरनेट सोशियल मीडिया ब्लॉग प्रेस "" फिफ्थ पिल्लर - कारप्शन किल्लर "- आपका अपना ऑन - लाईन समाचार-पत्र !! रोज़ाना पढ़िए , मित्रों संग शेयर कीजिये और अपने अनमोल कॉमेंट भी अवश्य लिखिए !!

प्रिय मित्र,सादर नमस्कार !!
          आपसे मित्रता करके मुझे अत्यंत प्रसन्नता हो रही है ! आपके जनम दिन की आपको हार्दिक बधाई और शुभ कामनाएं !! कृपया स्वीकार करें ! आपका जीवन सदा खुशियों से भरा रहे !! मेरा फेसबुक,गूगल+,ब्लॉग,पेज और विभिन्न ग्रुपों की सदस्य्ता ग्रहण करने का एक ख़ास उद्देश्य है ! मैं एक लेखक-विश्लेषक और एक समीक्षक हूँ ! राष्ट्रीय-अंतराष्ट्रीय ज्वलंत विषयों पर लिखना -पढ़ना मेरा शौक है ! मैं एक साधारण पढ़ालिखा और साफ़ स्वभाव का आदमी हूँ ! भारतीय संस्कृति और सनातन धर्म से प्यार करता हूँ ! भारत देश के लिए अगर मेरे प्राण काम आ सकें तो मैं इसे अपना सौभाग्य मानूंगा !परन्तु किसी संत-राजनितिक दल और नेता हेतु नहीं !मैं एक बिन्दास स्वभाव का आदमी हूँ ! मेरी मित्र मण्डली में मेरे बच्चे और रिश्तेदार भी शामिल हैं ! तो भी मैं सभी विषयों पर अपने खुले विचार रखता हूँ !! आप सब का हार्दिक स्वागत है मेरे जीवन में !! मैं आपकी यादों - बातों को संभल कर रखूँगा !!




            मित्रो !! मैं अपने ब्लॉग , फेसबुक , पेज़,ग्रुप और गुगल+ को एक समाचार-पत्र की तरह से देखता हूँ !! आप भी मेरे ओर मेरे मित्रों की सभी पोस्टों को एक समाचार क़ी तरह से ही पढ़ा ओर देखा कीजिये !!
" 5TH PILLAR CORRUPTION KILLER " नामक ब्लॉग ( समाचार-पत्र ) के पाठक मित्रों से एक विनम्र निवेदन - - - !!
आपका हार्दिक स्वागत है हमारे ब्लॉग ( समाचार-पत्र ) पर, जिसका नाम है - " 5TH PILLAR CORRUPTION KILLER " कृपया इसे एक समाचार-पत्र की तरह ही पढ़ें - देखें और अपने सभी मित्रों को भी शेयर करें ! इसमें मेरे लेखों के इलावा मेरे प्रिय लेखक मित्रों के लेख भी प्रकाशित किये जाते हैं ! जो बड़े ही ज्ञान वर्धक और ज्वलंत - विषयों पर आधारित होते हैं ! इसमें चित्र भी ऐसे होते हैं जो आपको बेहद पसंद आएंगे ! इसमें सभी प्रकार के विषयों को शामिल किया जाता है जैसे - शेयरों-शायरी , मनोरंजक  घटनाएँ आदि-आदि !! इसका लिंक ये है -www.pitamberduttsharma.blogspot.com.,ये समाचार पत्र आपको टविटर , गूगल+,पेज़ और ग्रुप पर भी मिल जाएगा ! ! अतः ज्यादा से ज्यादा संख्या में आप हमारे मित्र बने अपनी फ्रेंड रिक्वेस्ट भेज कर इसे सब पढ़ें !! आपके जीवन में ढेर सारी खुशियाँ आयें इसी मनोकामना के साथ !! हमेशां जागरूक बने रहें !! बस आपका सहयोग इसी तरह बना रहे !! मेरा इ मेल ये है : - pitamberdutt.sharma@gmail.com. मेरे ब्लॉग और फेसबुक के लिंक ये हैं :-www.facebook.com/pitamberdutt.sharma.7. मेरा ई मेल पता ये है -: pitamberdutt.sharma@gmail.com.

जो अभी तलक मेरे मित्र नहीं बन पाये हैं , कृपया वो जल्दी से अपनी फ्रेंड-रिक्वेस्ट भेजें , क्योंकि मेरी आई डी तो ब्लाक रहती है ! आप सबका मेरे ब्लॉग "5th pillar corruption killer " व इसी नाम से चल रहे पेज , गूगल+ और मेरी फेसबुक वाल पर हार्दिक स्वागत है !!
आप सब जो मेरे और मेरे मित्रों द्वारा , सम - सामयिक विषयों पर लिखे लेख , टिप्प्णियों ,कार्टूनो और आकर्षक , ज्ञानवर्धक व लुभावने समाचार पढ़ते हो , उन पर अपने अनमोल कॉमेंट्स और लाईक देते हो या मेरी पोस्ट को अपने मित्रों संग बांटने हेतु उसे शेयर करते हो , उसका मैं आप सबका बहुत आभारी हूँ !
आशा है आपका प्यार मुझे इसी तरह से मिलता रहेगा !!आपका क्या कहना है मित्रो ??अपने विचार अवश्य हमारे ब्लॉग पर लिखियेगा !!
                                             
                                    सधन्यवाद !!
                                                                                                             आपका प्रिय मित्र, 
                                                                                                                 पीताम्बर दत्त शर्मा,
                                                                                                                     हेल्प-लाईन-बिग-बाज़ार,
                                                                                                                        R.C.P. रोड, सूरतगढ़ !
                                                                                                                          जिला-श्री गंगानगर।
                                           मोबाईल नंबर-09414657511 
" आकर्षक - समाचार ,लुभावने समाचार " आप भी पढ़िए और मित्रों को भी पढ़ाइये .....!!!
BY :- " 5TH PILLAR CORRUPTION KILLER " THE BLOG . READ,SHARE AND GIVE YOUR VELUABEL COMMENTS DAILY . !!
Posted by PD SHARMA, 09414657511 (EX. . VICE PRESIDENT OF B. J. P. CHUNAV VISHLESHAN and SANKHYKI PRKOSHTH (RAJASTHAN )SOCIAL WORKER,Distt. Organiser of PUNJABI WELFARE SOCIETY,Suratgarh. (raj)INDIA.       

Wednesday, September 17, 2014

" भाजपा की गैस-प्रॉब्लम बहुत पुरानी है , हर जीत के बाद हो ही जाती है " !!कोई दवा काम नहीं कर रही - पीताम्बर दत्त शर्मा ( लेखक-समीक्षक-विश्लेषक )

मित्रो !! चाहे समय जनसंघ का हो या भाजपा का हमारे ये भारतीय संस्कृति वाले नेता " राजनितिक-गैस प्रॉब्लम " के शिकार हैं ! जब ये जीत नहीं होते हैं तब तो ये कार्यकर्त्ता को पार्टी की रीढ़ और ना जाने क्या-क्या भाषण देते हैं , नियम बताते हैं और आदेश देते हैं , वो आप भी भलीभांति जानते होंगे क्योंकि आपने भी कभी ना कभी अवश्य सुने होंगे !! सारा देश ये मानने लगा की जो ये कह रहे हैं , शायद वो ही " सत्य " है , इसीलिए जनता ने अबकी बार भाजपा को एक मुश्त जीत दिलवादी ! 
               लेकिन बेचारा अकेला मोदी  जी क्या करें ???? किस-किस पर नज़र रख्खें ?? किस-किस को रोकें ?? ससुरे भाषण देकर सारे घोड़े बेचकर सो गए !! भाड़ में जाएँ कार्यकर्त्ता और भाड़ में जाये जनता !!जनता ने भी तुरन्त " नतीजा " दिखा दिया ! अब बोल रहे हैं " गहरा-मंथन " करेंगे ?? हो गया मंथन !! जनता को रोज़ सारे मंत्रियों की ऐसी कार्यवाही का समाचार पढ़ने देखने को मिले जिसमे किसी भ्रष्ट पर कार्यवाही हुई हो !! क्या देश में रहने वाले चोर-गद्दार को पकड़ने हेतु कोई पहाड़ तोड़ कर लाना पड़ता है ??बाबुओं को जल्दी काम करने और करवाने  हेतु फ़ालतू की "ऑफिस - कानूनों से छुटकारा दिलाने हेतु क्या अमेरिका की इजाजत चाहिए ???
         दूसरी तरफ भाजपा के संगठन को ही ले लो !! इतने वर्षों तक संघ और भाजपा अपने निर्धारित पदों हेतु कोई योग्यता निर्धारित नहीं कर पायी है ! बस ! एक ही फार्मूला है की जो किसी का चाहता है  पदाधिकारी है !! दिखावटी लोकतंत्र है पार्टी में !!क्या ये सब सही करना कोई बड़ा काम है ! लेकिन कोई कर नहीं रहा क्यों ?? क्योंकि सबको अपनी दुकानदारी चलानी है , देश सेवा तो मात्र एक बहाना है !!भाजपा में भी !! कोई पार्टी विद डिफ़रेंस नहीं है ये भाजपा !!
          अन्य राजनितिक दलों हेतु भी ज्यादा नाचने का अवसर नहीं आ गया है , क्योंकि जनता उनको तो " धिक्कारने " लायक भी नहीं समझती है ! 8 - 10 सीटें जीत जाना कोई बहादुरी का काम नहीं है ? आगामी विधानसभा चुनावों में ये भी पता चल जायेगा !! परन्तु भाजपा को अवश्य अपने आपको सुधारना होगा या फिर मोदी जी को देश हित में " तानाशाह " बनना होगा !! मेरे प्रिया मित्र श्रीमान पुण्य प्रसुन वाजपेयी जी ने भी अपने ताज़ा लेख में भाजपा की पूरी बखियां उधेड़ीं हैं !! आप भी पढ़िए ! साभार लिया है !!



                

TUESDAY, SEPTEMBER 16, 2014

सपने का टूटना या लोकतंत्र की जीत की उम्मीद

प्रधानमंत्री मोदी का जादू चल जायेगा। लेकिन नहीं चला। संघ परिवार की सक्रियता के बगैर जीत जायेंगे। लेकिन नहीं जीते। लव जेहाद और सांप्रदायिक बोल हिन्दु वोट को एकजुट रखेंगे। लेकिन नहीं रख पाये।
अल्पसंख्यक असुरक्षित होकर बीजेपी की छांव में ही आयेगा या फिर उसकी एकजुटता हिन्दुओं में जातीय समीकरण को भुला देगी। लेकिन यह भी नहीं हुआ। मायावती की गैरहाजरी में दलित वोट विकास की चकाचौंध में खोयेगा। लेकिन वह भी नहीं खोया। वसुंधरा की बिसात और मोदी की चमक राजस्थान में बीजेपी से इतर किसी को कुछ सोचने नहीं देगी। लेकिन यह भी नहीं हुआ। छह करोड़ गुजराती मोदी के पीएम बनने की खुमारी में डूबा रहेगा और आनंदीबेन मोदी को जीत का बर्थ-डे गिफ्ट दे देगी। लेकिन बर्थ-डे गिफ्ट भी धरा का धरा रह गया। तो फिर उपचुनाव के परिणाम के संकेत ने क्या लोकसभा चुनाव के फैसले को ही पलटने की तैयारी कर ली है। या फिर राजनीतिक शून्यता के ऐसे पायदान पर देश की संसदीय राजनीति जा खड़ी हुई है जहां बार बार आगे बढ़कर पीछे लौटने के अलावे कोई विकल्प देश की जनता के सामने है नहीं। मंडल की धार से 25 बरस पहले कमंडल टकरायी।

लेकिन 25 बरस बाद मोदी के विकास मंत्र ने मंडल की धार को भोथरा बना दिया और कमंडल को हिन्दु राष्ट्रवाद के आइने में उतार कर एक नयी लकीर खिंचने की नायाब पहल की। लगा यही कि मंडल के दौर में क्षत्रपों की सियासत ने देश का बंटाधार ही किया तो फिर मोदी के विकास के घोड़े की सवारी कुछ सकून तो देगी। लेकिन हकीकत से कहां कैसे वोटर भागे। उसे तो हर दिन रसोई में आंसू बहाने है। विकास का ताना बाना चाहे विदेशी पूंजी की आस जगाता हो। चाहे इन्फ्रास्ट्रक्चर के नाम पर क्रक्रीट का जंगल खडा करने की बैचैनी दिखाता हो। चाहे डिजिटल इंडिया के सपने तले हर हाथ में तकनालाजी की उम्मीद जागती हो। चाहे कॉरपोरेट के धुरंधरों और औघोगिक घरानो के एफडीआई के समझौते के नये रास्ते खुलते नजर आते हो। चाहे मोदी सरकार की इस चकाचौंध को बेहद बारिकी से मीडिया लगातार परोसता हो। और इस भागमभाग में चाहे हर कोई हर उस मुद्दे से ही दूर होता चला गया हो जो लोकसभा चुनाव के वक्त देश के आम जन की आंखों में जगाये गये हों। चाहे वह रोजगार पा जाने का सपना हो। चाहे वह पाकिस्तान और चीन से दो दो हाथ करने का सुकुन हो। चाहे बिचौलियों और कालाबाजारियों पर नकेल कसने की उम्मीद हो। चाहे कांग्रेस के गैर सरोकार वाले रईस कांग्रेसियों या कहें लूटने वालो को कटघरे में खड़ा करने की हनक हो। सबकुछ नरेन्द्र मोदी ने जगाया। और इन्हीं सबकुछ पर कुंडली मार कर देश को भुलाने और सुलाने का तरीका भी मोदी सरकार ने ही निकाला। तो क्या विकल्प की बात ख्वाब थी या विकल्प या विकास का ताना बाना सत्ता पाने का सियासी स्वाद बन चुका है । इसलिये सौ दिन की सरकार की हार ने मंडल प्रयोग से आगे मंडल का ट्रैक टू शुरु करने का संकेत दे दिये। जहां मायावती की खामोशी मुलायम को जीता कर आने वाले वक्त में गेस्टहाउस कांड को भुलाने की दिशा में जाना चाहती हैं। ठीक उसी तरह जैसे सुशासन बाबू जंगल राज के नायक के साथ खड़े हो गये। पहले तमगा दिया फिर दिल दे दिया ।

गजब की सियासत का दौर है यह । क्योंकि इस बिसात पर संभल कर चलने के लिये चुनावी जीत की तिकडमें ही हर दल के लिये महत्वपूर्ण हो चली हैं। और तिकडमों से निकलने वाली चुनावी जीत संविधान से बड़ी लगने लगी है। यूपी के सांप्रदायिक दंगे। मुजफ्फरनगर की त्रासदी के बीच सैफई का नाचगान। अब कोई मायने नहीं रखता। गहलोत के दौर के घोटाले सचिन पायलट की अगुवाई में काग्रेस की जीत तले छुप जाते हैं। मोदी के दरबार में वसुंधरा राजे के प्यादा से भी कम हैसियत पाना। यूपी की बिसात पर राजनाथ को प्यादा और योगी आदित्यनाथ का वजीर बनाने की चाहत वाले अमित शाह की चाल भी जीत के दायरे में मापी जाती है। और अमित शाह को हर राज्य में जीत का सेहरा पहनाने की हैसियत वाला मान कर आरएसएस झटके में प्यादे से वजीर बनाकर सुकुन पाती है। तो फिर चुनावी दौड़ का यह रास्ता थमता किधर है। शायद कहीं नहीं। क्योंकि यह दौड़ ही सत्ता की मलाई खाने के लिये जातीय और धर्म के आधार पर उचकाती है। या फिर विकास का अनूठा मंत्र देकर ऐसे भ्रष्टाचार की ऐसी लकीर खिंचती है,जिसके तले मजदूर के हक के कानून बदल जाये। पर्यावरण से खुला खिलवाड विकास के नाम पर दौड़ने लगे। जन-धन योजना तले देश की लाइफ इंशोरेंस कंपनी एलआईसी का नहीं बल्कि विदेशी बैंक एचडीएफसी के लाइफ इंशोरेंस का कल्याण हो। विदेशी पूंजी की आहट राष्ट्रीयता को इतना मजबूर कर दें कि जुंबा पर हिन्दु राष्ट्रवाद गूंजे जरुर लेकिन देश बाजार और व्यापार में बदलता दिखे। जिसमें चुनी हुई सरकार ही बिचौलिये या कमीशनखोर हो जाये। ध्यान दीजिये तो मनमोहन का दौर हो या मोदी का दौर पटरी वही है इसलिये बार बार देश उन्हीं क्षत्रपों की गोद में लौटता है, जहां मलाई खाने के लिये सत्ता के दरवाजे तो खुले मिलते है चाहें लूट खुली क्यों ना हो। इसलिये उपचुनाव के परिणाम निराशा और सपनों की टूटने के अनकही कहानी भी है और लोकतंत्र की जीत की उम्मीद भी।
            " इन्टरनेट सोशियल मीडिया ब्लॉग प्रेस "" फिफ्थ पिल्लर - कारप्शन किल्लर "
की तरफ से आप सब पाठक मित्रों को आज के दिन की
हार्दिक बधाई और ढेर सारी शुभकामनाएं !!नए बने मित्रों का हार्दिक स्वागत-अभिनन्दन स्वीकार करें !
जिन मित्रों का आज जन्मदिन है उनको हार्दिक शुभकामनाएं और बधाइयाँ !!
ये दिन आप सब के लिए भरपूर सफलताओं के अवसर लेकर आये , आपका जीवन सभी प्रकार की खुशियों से महक जाए " !!
मित्रो !! मैं अपने ब्लॉग , फेसबुक , पेज़,ग्रुप और गुगल+ को एक समाचार-पत्र की तरह से देखता हूँ !! आप भी मेरे ओर मेरे मित्रों की सभी पोस्टों को एक समाचार क़ी तरह से ही पढ़ा ओर देखा कीजिये !!
" 5TH PILLAR CORRUPTION KILLER " नामक ब्लॉग ( समाचार-पत्र ) के पाठक मित्रों से एक विनम्र निवेदन - - - !!
आपका हार्दिक स्वागत है हमारे ब्लॉग ( समाचार-पत्र ) पर, जिसका नाम है - " 5TH PILLAR CORRUPTION KILLER " कृपया इसे एक समाचार-पत्र की तरह ही पढ़ें - देखें और अपने सभी मित्रों को भी शेयर करें ! इसमें मेरे लेखों के इलावा मेरे प्रिय लेखक मित्रों के लेख भी प्रकाशित किये जाते हैं ! जो बड़े ही ज्ञान वर्धक और ज्वलंत - विषयों पर आधारित होते हैं ! इसमें चित्र भी ऐसे होते हैं जो आपको बेहद पसंद आएंगे ! इसमें सभी प्रकार के विषयों को शामिल किया जाता है जैसे - शेयरों-शायरी , मनोरंहक घटनाएँ आदि-आदि !! इसका लिंक ये है -www.pitamberduttsharma.blogspot.com.,ये समाचार पत्र आपको टविटर , गूगल+,पेज़ और ग्रुप पर भी मिल जाएगा ! ! अतः ज्यादा से ज्यादा संख्या में आप हमारे मित्र बने अपनी फ्रेंड रिक्वेस्ट भेज कर इसे सब पढ़ें !! आपके जीवन में ढेर सारी खुशियाँ आयें इसी मनोकामना के साथ !! हमेशां जागरूक बने रहें !! बस आपका सहयोग इसी तरह बना रहे !! मेरा इ मेल ये है : - pitamberdutt.sharma@gmail.com. मेरे ब्लॉग और फेसबुक के लिंक ये हैं :-www.facebook.com/pitamberdutt.sharma.7
www.pitamberduttsharma.blogspot.com
जो अभी तलक मेरे मित्र नहीं बन पाये हैं , कृपया वो जल्दी से अपनी फ्रेंड-रिक्वेस्ट भेजें , क्योंकि मेरी आई डी तो ब्लाक रहती है ! आप सबका मेरे ब्लॉग "5th pillar corruption killer " व इसी नाम से चल रहे पेज , गूगल+ और मेरी फेसबुक वाल पर हार्दिक स्वागत है !!
आप सब जो मेरे और मेरे मित्रों द्वारा , सम - सामयिक विषयों पर लिखे लेख , टिप्प्णियों ,कार्टूनो और आकर्षक , ज्ञानवर्धक व लुभावने समाचार पढ़ते हो , उन पर अपने अनमोल कॉमेंट्स और लाईक देते हो या मेरी पोस्ट को अपने मित्रों संग बांटने हेतु उसे शेयर करते हो , उसका मैं आप सबका बहुत आभारी हूँ !
आशा है आपका प्यार मुझे इसी तरह से मिलता रहेगा !!आपका क्या कहना है मित्रो ??अपने विचार अवश्य हमारे ब्लॉग पर लिखियेगा !!
सधन्यवाद !!
आपका प्रिय मित्र,
पीताम्बर दत्त शर्मा,
हेल्प-लाईन-बिग-बाज़ार,
R.C.P. रोड, सूरतगढ़ !
जिला-श्री गंगानगर।
" आकर्षक - समाचार ,लुभावने समाचार " आप भी पढ़िए और मित्रों को भी पढ़ाइये .....!!!
BY :- " 5TH PILLAR CORRUPTION KILLER " THE BLOG . READ,SHARE AND GIVE YOUR VELUABEL COMMENTS DAILY . !!
Posted by PD SHARMA, 09414657511 (EX. . VICE PRESIDENT OF B. J. P. CHUNAV VISHLESHAN and SANKHYKI PRKOSHTH (RAJASTHAN )SOCIAL WORKER,Distt. Organiser of PUNJABI WELFARE SOCIETY,Suratgarh

Tuesday, September 16, 2014

"फिफ्थ पिल्लर करप्शन किल्लर"द्वारा सूरतगढ़ में करवाये जा रहे"मतदाता जागरूकता अभियान एवं कौन बनेगा पार्षद व चेयरमैन" के सर्वे का दूसरा क्रम " ख़ुफ़िया-सर्वे "15 सितम्बर 2014 से शुरू !

सूरतगढ़ वासियो !! आपको ये जानकार अति प्रसन्नता होगी कि ,"फिफ्थ पिल्लर करप्शन किल्लर"द्वारा सूरतगढ़ में करवाये जा रहे"मतदाता जागरूकता अभियान एवं कौन बनेगा पार्षद व चेयरमैन" के सर्वे का पहला सत्र समाप्त हो गया है ! इस सत्र में हम सूरतगढ़ के सभी 35 वार्डों में घूमे और आपकी राय जानी !!! 
   इस सर्वे का दूसरा क्रम " ख़ुफ़िया-सर्वे " 15 सितम्बर 2014 से शुरू हो गया है ! इसके अंतर्गत हमारी 5 सदस्यीय टीम पूरे सूरतगढ़ शहर में आज से 23 सितम्बर 2014 तक घूम-घूम कर आपके मन की बात जानेगी ! 
             इस सर्वे का अंतिम पड़ाव 25  सितम्बर 2014 से 30 सितम्बर 2014 तक चलेगा ! जिसमे हम आपके पास एक " सर्वे-मतदान-पेटिका " लेकर पंहुचेंगे ! आप  पसन्द के भावी पार्षद और चेयरमैन का नाम लिखकर उसमे डालेंगे ! तत्पश्चात तीनों  सर्वे का विशेषज्ञ लोग मन्थन करेंगे ! और अंत में दिनांक 2 अक्टूबर 2014 को सायं 4:15 बजे राष्ट्रीय राम लीला उत्थान क्लब के मंच, जो नगरपालिका कार्यालय के सामने स्थित है से इसका नतीजा घोषित किया जायेगा !! इस नतीजे में प्रत्येक वार्ड से जनता किसको अपना भावी पार्षद देखना चाहती है उन 3 प्रमुख पुरुष या महिला के नाम घोषित किये जाएंगे ! इसी तरह से जनता की पसंद के 3 भावी महिला चेयरमैन के नाम भी बताये जाएंगे !! 
         इसलिए आप सब नगर निवासियों से प्रार्थना है आप बढ़-चढ़ कर भाग लेवें ! सर्वे के नतीजे जानने हेतु,




2 अक्टूबर के दिन सायं 4:15 बजे नगरपालिका के सामने पंहुचकर इस सर्वे कार्यक्रम की, शोभा को बढ़ावें !
                       **************

" सूरतगढ़ नगरपालिका चुनावों में कई नामी हस्तियाँ ना - ना करते ...., हाँ करेंगी चुनाव लड़ने को " ??

 मित्रो !! वो एक हिंदी फिल्म का गीत है ना कि :- ना-ना करते प्यार तुम्ही से कर बैठे , करना था इंकार , मगर इकरार , तुम्हीं से कर बैठे.....??? ठीक उसी तरह से हमारे शहर के कई बड़े नेता बड़े ही सूझवान ( चालाक ) हैं !वो पहले तो चुनाव ना लड़ने का कहकर सारा जायज़ा लेते रहते हैं और जब चुनाव लड़ने हेतु समय नज़दीक आता है तो तुरन्त ये कहते हुए मैदान में कूद जाते हैं कि क्या करें यारो पार्टी का दबाव पड़ गया!मैं तो आपका ही समर्थन कर रहा था ! सामने वाला बेचारा भोला-भाला उसके बहकावे में आ जाता है और उसको जी-जान से कोशिश करके , नारे लगाके जितवा भी देता है ! वो तो बाद में पता चलता है कि ये तो उसकी चाल थी ! उस समर्थक की नाटो कोई सुनता है और कोई बात मानता है , उल्टा उसका मज़ाक अवश्य उड़ाया जाता है !!
               मित्रो !! आप भी सब ऐसे चतुर सुजानों से ज़रा बच के रहना जी !! ज़माना बड़ा ही खराब चल रहा है !दूसरी तरफ सभी राजनितिक दल भी कूटनीतियाँ बनाने में जुट गए हैं !! वो  हैं कि पिछली बार कौन किसकी मदद से जीता था ?,उसी को तोड़ कर अपने साथ मिलाने में लगे हुए हैं सब ! अपने घर को कोई नहीं बचा रहा !" आप " बहुजन समाज पार्टी " सी पी एम " और कांग्रेस पार्टियों के पास तो 35 वार्डों में चुनाव लड़वाने हेतु प्रत्याशी ही नहीं मिल रहे,जबकि शहर में बोर्ड कांग्रेस का बनने की प्रबल संभावना लोग बता रहे हैं 
            उधर भाजपा भी टूटी-फूटी नज़र आ रही है ! उसके जोड़ कई जगह से उखड़े हुए नज़र आ रहे हैं उसे किसी बढ़िया " फेविकोल " की आवश्यकता है जो किसी बनिए के पास नहीं बल्कि किसी " ब्राह्मण " के पास मिलेगी !! क्योंकि ब्राह्मण उस " फेविकोल " को मन्त्र शक्ति से " मजबूत " कर देगा ! तभी भाजपा सूरतगढ़ में नगर पालिका का चेयरमैन बना पायेगी , अन्यथा कोई ना कोई कमी रह ही जायेगी ! इसलिए भाजपा को भी गहरा मंथन करके ही अपना नगर मंडल अध्यक्ष और नगरपालिका के प्रत्याशी घोषित करने होंगे !! हाँ !! अगर नगरपालिका चेयरमैन का सीधा चुनाव  है तो कोई अग्रवाल महिला ही सूरतगढ़ की चेयरमैन बनने की प्रबल संभावना बन रही है ! 
              

" वार्ड चुनावों में ताल ठोकने हेतु महिलाओं ने कसी कमर , श्री मति रजनी मोदी , नीलम सांगवान , गीता देवी सरस्वा सुनीता शर्मा और संतोष गिरी जी खुलकर आयीं जनता के सामने ! अपने अपने वार्डों में शुरू किया जनसम्पर्क "!



वार्ड नंबर 10 सेश्री मति सुनीता शर्मा ने अपने निवास पर 

भाजपा के नेताओं के समक्ष अपनी टिकेट की मांग रख दी !

जो श्री पार्थ सारथी शर्मा की पत्नी और श्री पीताम्बर दत्त शर्मा 

की पुत्रवधु हैं ! उन्होंने कहा कि हमारे परिवार ने 28 वर्षों से 

पार्टी की पूरी निष्ठां से सेवा की है , इसलिए उन्हें ये चुनाव 

लड़ने का मौका अगर पार्टी देगी तो वे अवश्य पार्षद का चुनाव 

लड़कर वार्ड के हितों की सेवा करेंगी ! उन्होंने अपने आपको 

B.A.B.ed.तक शिक्षित और कॉलेज की पूर्व में प्रधान होना 

बताया ! वार्ड नंबर 10 में अभी से ये चर्चा है की अगर उन्हें 

भाजपा ये चुनाव लड़ने का अवसर देती है तो पार्टी की जीत 

पक्की है ! क्योंकि इस वार्ड से श्री पीताम्बर दत्त शर्मा के 

सहयोग से ही पूर्व में बने पार्षद  जीत पाये हैं !

                       वार्ड नंबर 34 से ज़ाकिर हुसैन बहलिम भी 

अपना दावा लेकर सामने आये हैं !!जो की एक प्रसिद्ध 

समाजसेवी हैं दसवीं तक पढ़े हैं सूरतगढ़ के गणेश मंदिर के 

पास रहते हैं ! बड़े ही मृदुल स्वभाव के व्यक्ति हैं !कांग्रेस पार्टी 

से जुड़े हुए हैं ! पार्षद बनकर शहर की सेवा करना चाहते हैं !

वार्ड के प्रमुख लोग इनका समर्थन कर रहे हैं !हमारी तरफ से 

भी उनको शुभकामनायें !!

        श्रीमती रजनी मोदी सूरतगढ़ की प्रसिद्ध 

राजनीतिज्ञ,समाजसेवी और प्रखर वक्ता हैं ! उन्होंने हिंदी में 

M. A. किया है !वे नगर , जिला , प्रदेश और राष्ट्रीय स्तर के 

संगठनो से जुडी हुई हैं !! भाजपा महिला मोर्चा की वो 

जिलाध्यक्ष हैं ! सामान्य महिला चेयरमैन घोषित होने पर 

पार्टी उनकी तरफ आशा से देख रही है ! चुनाव लड़ने पर वो 

वार्ड नंबर 17 से अवश्य जीत कर आएँगी !!


          वार्ड नंबर 6 से श्री मति गीता देवी कांग्रेस पार्टी की 

उमीदवार हो सकती हैं वे पहले भी पार्षद रह चुकी हैं ! उनके 

पति श्री मोहन सरस्वा अच्छे समाज सेवी हैं ! श्री मति गीता 

देवी ने पार्षद रहते हुए वार्ड वासियों के बहुत काम करवाये !

पहले यंहा कोई सड़क नहीं होती थी इन्होने सड़कें बनवायीं, 

पानी की पाइपें डलवायीं,b. p. l. कार्ड बनवाए , बिजली के 

खंबे भी लगवाये !!स्ट्रीट लाईट भी लगवायी ! इनकी जीत 

सुनिश्चित नज़र आ रही है !



           वार्ड नंबर १७ से ही पूर्व पार्षद श्रीमती संतोष गिरी जी 

एक बार फिर अपना दावा जोर शोर से जता रही हैं ! उन्हें 

अपने द्वारा वार्ड में करवाये गए कार्यों के बल पर पूरा भरोसा 

और विश्वास है कि जनता उन्हें एक बार फिर से जीत 

दिलवाएगी !! वे बड़ी ही मिलनसार स्वभाव की महिला हैं !! 

पूर्व में भाजपा की पार्षद हैं ! वार्ड के काम  उनके पति श्री राज 

गिरी भी पूरा सहयोग करते हैं !!उनका ये भी कहना है की वो 

चैयरमैन के लिए नहीं बल्कि वार्ड वासियों के काम करवाने 

हेतु पार्षद बनना चाहती हैं !!




               ******************
          

सूरतगढ़ के चेयरमैन का चुनाव सीधे जनता करेगी या फिर नवनिर्वाचित पार्षद ? स्वयं के विवेक से निर्णय लेने वाली होगी हमारी अगली चेयरमैन या फिर अपने पति की रबड़ स्टेम्प बनेगी हमारी " भाग्यविधाता " ???


  हमारे प्रिय शहर  सूरतगढ़ की जनता आगामी  नवम्बर माह 

में अपने शहर की देख-रेख  और आवश्यक सुविधाएँ जनता 

को मिलती रहें , इस हेतु अपने 35 पार्षद एवँ एक अदद 

महिला चेयरमैन चुनेगी जो सामान्य वर्ग से होगी ! ऐसा 

हमारी क़ानून व्यवस्था कहती है !

                            लेकिन वो वर्ग जो आरक्षण  में आते हैं , 

जो सीट उनके लिए आरक्षित होती है वहां से सामान्य वर्ग 

वाला चुनाव नहीं लड़ सकता , लेकिन वो सब सामान्य वर्ग में 

चुनाव लड़ सकते हैं ! ऐसा हमारा संविधान कहता है जो 

हमेशा " न्याय "करता है !! यानी कि वो हमारे घर बना हुआ 

हलवा खा सकते हैं हम उनके घर का हलवा नहीं खा सकते ! 

क्योंकि हमारे नेताओं का कहना है कि हमारे बुज़ुर्गों ने उनके 

घरका " हलवा " कई वर्षों तक खाया था ! इसलिए कानूनन 

आयक्षित जाति की महिला भी हमारी आगामी चेयरमैन हो 

सकती है !

                  ये सब पहले हमारे राजनितिक दलों के नेता तय 

करेंगे ! जिसको वे " उचित " मानेंगे उसे ही बड़े नेता अपनी 

टिकेट देंगे , फिर उनमे से ही किसी एक को जनता चुनेगी ! 

राजनितिक दलों के लीडर ही देखेंगे कि  किस महिला को 

नगरपालिका के कानूनो-नियमों का ज्ञान है ?? कौन सी 

महिला नेतृत्व की क्षमता रखती है ??कौन वो  महिला होगी 

जो दलगत राजनीती से ऊपर उठ कर सारे सूरतगढ़ की भलाई 

हेतु कार्य करेगी ???कौन वो महिला होगी जो सभी पार्षदों को 

महत्त्व देगी ??


                  क्या - - -क्या  - -  - क्या ?? मैं पागल होगया हूँ 

?? क्या कह रहे हो आप ?? हमारे लीडर लोग ये सब सोचकर 

किसी को हमारा प्रत्याशी कभी नहीं बनाते ?? वो तो उसी को 

हमारा प्रत्याशी  जो उनके कहे अनुसार ही चले .....?? पिछले 

सभी चेयरमैन ऐसे ही थे ?? नहीं जी , नहीं जी, ऐसा नहीं है 

नेता नहीं तो जनता तो अच्छे आदमी को ही चुनती है ना ?? 

क्या कहा ??? वो भी सही आदमी को नहीं चुन पाती ?? 

जनता की भी कई मजबूरियां हो जाती हैं ??वोटर भी अपना 

वोट अच्छे आदमी या ओरत को देखकर नहीं बल्कि उसका 

धर्म-जाति -इलाका-और पार्टी देखकर देता है ! तो फिर लेखक 

जी आप अच्छे चेयरमैन या पार्षद चुने जाने की कल्पना भी 

कैसे कर रहे हो ??? इसलिए पागल ही हुए ना आप ??


                  इस कलयुग में चुनाव सिर्फ पैसा बनाने हेतु ही 

लड़ा जाता है !! देखलो अपने शहर के पूर्व पार्षदों और 

चेयरमैनों को !! सब नहीं तो ज्यादातर चुनाव जीतने के बाद 

ही अमीर हुए हैं  !! इंजीनियर होने के बाद भी सूरतगढ़ का 

आज ये हाल है !! सड़कों - नालियों का लेवल तक सही नहीं है 

!!एक दो पार्षदों को छोड़ दें तो कोई भी नगरपालिका के क़ानून 

और कार्यवाही कैसे चलती है ये नहीं जानता !! 5 वर्ष बीत जाने 

के बाद भी !! नयों से क्या आस की जा सकती है ये आप ही 

सोच-समझ लो यारो !!

                   होना तो ये चाहिए कि जो भी हमारा चेयरमैन 

चुनकर आये पहले वो नगरपालिका सम्बन्धी सभी कानून 

सीखे , कार्यवाही कैसे सही चले , ये सीखे ! बाद में अपने 

पार्षदों को भी 5 - 7 दिनों की कार्यशाला में भेजे ! फिर एक 

विस्तृत योजना नगर हेतु सभी की सहमति से बने , 

तत्पश्चात उन योजनाओं पर 5 वर्षों तलाक काम चले ! तब तो 

सूरतगढ़ का कुछ भला हो सकता है अन्यथा हर बार वो ही 

नतीजा आएगा कि ढोल के तीन ....??

                 अभी भी कुछ नहीं बिगड़ा है !! सूरतगढ़ की 

जनता अगर सोच ले कि जो लोग पिछले 3 - 4 महीनो से पैसे 

के बल पर अपनी जीभ लप -लपा रहे हैं और गुणीजनों को 

अपनी मक्कारी और चतुराई से आगे नहीं आने दे रहे हैं , 

उनको कड़ा सबक सीखा सकती है !! ऐसी चिंगारी जनता के 

मन में उठ भी रही है , ये मैं साफ़-साफ़ अनुभव कर रहा हूँ !!


                  अगर हमने अभी इस बारे में नहीं सोचा तो फिर 

हम सबको पछताना पड़ेगा !! इसलिए  - जाग - जाओ !! 

सूरतगढ़ वासियो !! क्योंकि जो जागत हैं वो ही पावत हैं !! जी 

!! 

                   वैसे हमारे सूरतगढ़ में ज्ञानवान महिलाओं की 

कोई कमी नहीं है !! लेकिन राजनीती का चरित्र देखते हुए , 

ज्यादातर शिक्षित परिवार अपनी बहु-बेटियों को इस क्षेत्र में 

आगे नहीं बढ़ाते ! चन्द महिलाओं के नाम मैं आपको सुझा 

रहा हूँ  - जैसे कि  :- श्री मति आरती शर्मा , श्री मति राजेश 

सिडाना, श्री मति रजनी मोदी , श्री मति हर्ष तनेजा ,श्री मति 

सुनीता टण्डन ,श्री मति रेखा धुआ ,श्रीमती पार्वती देवी 

धानुका ,श्री मति मीराँ ,श्रीमती परमिन्द्र कौर बेदी , श्रीमती 

विमला शर्मा , श्रीमती सुनीता शर्मा वार्ड नंबर 10 ,और  

श्रीमती वनिता पारीक आदि कई महिलाएं हैं जो बढ़िया काम 

कर सकती हैं !  

             अभी कई और परिवारों के मुखियों से बातचीत चल 

रही है ! हो सकता है कोई बिलकुल नया नाम ही सूरतगढ़ की 

जनता के सामने आ जाये जैसे कि श्रीमती काजल छाबड़ा या 

कोई महिला चोपड़ा परिवार से भी आ सकती है इंटबार 

कीजिये !


              अभी -अभी  ये समाचार भी आरहा है की चेयरमैन 

के चुनाव सीधे द्वारा भी हो सकते हैं तो फिर परिस्तिथियाँ 

फिर करवट ले सकती हैं !! 

            आगे-आगे देखिये होता है क्या ??????

                    *********************

                     

"सूरतगढ़ में सभी राजनितिक दलों के बड़े नेता अपने कार्यकर्ताओं को बन्धुआ मजदूर समझते हैं और धनाढ्यों की कठपुतलियाँ स्वयं बने हुए हैं "- पीताम्बर दत्त शर्मा ( लेखक-विचारक )



सूरतगढ़ के नगरपालिका चुनाव जैसे-जैसे नज़दीक आते जा 

रहे हैं ,वैसे-वैसे शहर का राजनितिक तापमान बढ़ने  लगा है 

! इस छोटे से जनप्रतिनिधि के पद का चुनाव लड़ने हेतु 

किसी ना किसी राजनितिक दल का टिकेट  अत्यंत 

आवश्यक समझा जाता है क्योंकि टिकेट मिलने के बाद 

100 वोटों में से 20 से 40 वोट स्वतः ही उसके खाते में 

जुड़ जाते हैं !!वैसे भी जो कार्यकर्त्ता जिस पार्टी के साथ जुड़ा 

हुआ होता है वो उसी पार्टी की टिकेट मांगता है !! 

                 अब हर राजनितिक दल में कई नेता होते हैं , 

सब ऐसे दिखाते हैं की बस उन्ही की ही पार्टी में चलती है , 

इसलिए बेचारा टिकटार्थी सभी के आगे अपना सर नवाता 

फिरता है ! इसी आस में कि क्या पता इसको निवेदन करने 

पर टिकेट मिल जाए !लेकिन सभी नेता उसे वार्ड में जाकर 

पार्टी का प्रचार करने और अपना प्रभाव बढ़ाने और दिखाने 

का कहकर चलता करते हैं !  जो काम बड़े नेताओं का होता है 

उसे वो अदना सा कार्यकर्त्ता दिखाई पड़ता है तो वार्ड के 

निवासी भी मज़े ले-ले कर उसे ही समर्थन देने का वायदा 

करते हैं ! बस इसी चक्करघिन्नी से तंग आकर वो अपने 

नेतृत्व को ही चुनौती दे देता है ! कहता है की मैं देख लूँगा 

निर्दलीय चुनाव लड़ कर आपको भी दिखा दूंगा !!


                दूसरी तरफ देखने में आ रहा है की सूरतगढ़ में 

आप पार्टी तो अपना आधार भी नहीं बना पायी है और बसपा 

का संगठन बेहद कमज़ोर है ! कम्युनिस्ट पार्टी भी 3 से 

ज्यादा व्यक्तियों को चुनाव में नहीं उतार पाती !! उधर शिव 

सेना भाजपा का समर्थन करते-करते ही थक जाती है 

इसलिए सारे वार्डों में अपने प्रत्याशी खड़े करना और उनको 

जितवाने  का मादा रखना इस सभी दलों हेतु दूर की कोडी हैं 

!! धन की व्यवस्था भी इनका प्रादेशिक नेतृत्व नहीं कर 

पाता , वो तो खुद इनकी ही मदद पर चलते हैं ! ये सारे दल 

मिलकर सूरतगढ़ में अपने 5 पार्षद भी नहीं जीता पाएंगे !


                क्योंकि जनता भी अब दो बड़े राजनितिक दलों 

पर ही भरोसा करती है ! और वो हैं कांग्रेस और भाजपा ! 

दोनों की कार्यशैली भी एक जैसी है ! ये हर स्तर पर बड़े 

व्यपारियों पर ही ज्यादातर निर्भर रहती हैं कहने को तो ये 

कार्यकर्ताओं के तन-मन-धन पर चलती हैं , लेकिन जो 

भव्यता इनकी चुनावी रैलियों और सभाओं में नज़र आती हैं 

वो कुछ और ही कहानी कहती हैं !अभी जो 4 पार्षद विधायक 

जी की सहमति से मनोनीत हुए हैं उन नामों पर अगर अपनी 

गहन दृष्टि हम डालेंगे तो समझ में आ जायेगा ! 


               कांग्रेस पार्टी तो जब से बनी है तभी से इसमें 

अमीरों का ही बोलबाला रहा है ! सूरतगढ़ की बात करें तो 

यही सच लगता है ! यंहा पहले इक़बाल मुहम्मद जी अपना 

अनुभव यंहा की जनता को दिखाया जिसका नतीजा ये है की 

आज हर व्यक्ति पार्षद बन कर धन कामना चाहता है  और 

अब बनवारी लालजी ने अपना अनुभव दिखाया है ! 

इंजिनियर होने के बाद भी शहर की कोई नाली और सड़क 

लेबल में नहीं है !पूर्व विधायक श्री गंगाजल जी के साथ 

उनके सुपुत्र अपनी कार्यशैली दिखागए ! जनता ने उन्हें पसंद 

नहीं किया तो अब वो पूर्व जिला प्रमुख जो भाजपा की मदद 

से बने थे श्री पृथ्वी मील जी  को ले आये ! लेकिन कांग्रेस 

ज्वाइन करने के बाद  पिछले विधायक चुनावों में उनका 

जादू भी नहीं चल पाया ! क्या पता पालिका चुनावों में चल 

जाए ! लेकिन ये भी अपने पास के अमीर लोगों के परिवार 

की महिलाओं को ही चेयरमैन देखना और बनाना चाहते हैं !

ऐसा सुनने में आया है ! सच्चाई कितनी है वो राम ही 

जानता है !


                यही हाल सूरतगढ़ में भाजपा का है ! इसके 

प्रादेशिक नेतृत्व को भी अमीर लोगों के बीच बैठना ही पसंद 

है ! नगर मंडल अध्यक्ष और चेयरमैन दोनों रईस लोग ही 

बनेंगे ! सामान्य परिवार तो बस भागते दौड़ते ही नज़र 

आएंगे ! किसी भी दाल के बड़े नेता को इतनी फुर्सत नहीं है 

की वो सभी वार्डों में जाए और अपने कार्यकर्ताओं को 

सांत्वना दे , दिलासा दे और विश्वास दे कि उनके साथ न्याय 

होगा धोखा नहीं ! को टिकेट का असली दावेदार होगा उसको 

ही उम्मीदवार बनाया जायेगा !!

                 पिछले 5 वर्षों में सूरतगढ़  शहर में इतनी 

चोरियां हुईं,लड़ाइयां हुईं, भ्र्ष्टाचार हुआ लेकिन किसी पार्टी के 

पार्षद ने आवाज़ नहीं उठाई और नाही किसी राजनितिक दल 

ने कोई पुख्ता किसी घटना  को लेकर कोई आंदोलन ही 

किया ! सिर्फ जनरल तरीके से ही भाषण दिए जाते रहे !

कौन है जिम्मेदार इसका ?? क्या जनता दोषी है इस सबकी 

??या फिर बेचारा पिस्ता हुआ कार्यकर्त्ता जो जनता और नेता 

के बीच में फंसा हुआ है !!

             आजकल राजनीती सेवा करना नहीं बल्कि अमीरों 

का शुगल बन गयी है ! जो जायज़-नाजायज़ तरीके से धनि 

हो जाता है तो उसे कोई राजनितिक पद पाने की " खारिश " 

होने लगती है और वो किसी नेता को 20 - 50 लाख चंदा 

देकर विधायक बना  देता है और स्वयं या उसके किसी 

परिवार के सदस्य को चेयरमैन बनता हुआ देखना चाहता है 

! यही पूरे देश की कहानी है और यही हमारे सूरतगढ़ की 

कथा है जो सुनी सुनाई बातों पर आधारित है , कृपया कोई 

दिल पे मत ले धन्यवाद !! 






  " इन्टरनेट सोशियल मीडिया ब्लॉग प्रेस "" फिफ्थ पिल्लर - कारप्शन किल्लर "
की तरफ से आप सब पाठक मित्रों को आज के दिन की
हार्दिक बधाई और ढेर सारी शुभकामनाएं !!नए बने मित्रों का हार्दिक स्वागत-अभिनन्दन स्वीकार करें !
जिन मित्रों का आज जन्मदिन है उनको हार्दिक शुभकामनाएं और बधाइयाँ !!
ये दिन आप सब के लिए भरपूर सफलताओं के अवसर लेकर आये , आपका जीवन सभी प्रकार की खुशियों से महक जाए " !!
मित्रो !! मैं अपने ब्लॉग , फेसबुक , पेज़,ग्रुप और गुगल+ को एक समाचार-पत्र की तरह से देखता हूँ !! आप भी मेरे ओर मेरे मित्रों की सभी पोस्टों को एक समाचार क़ी तरह से ही पढ़ा ओर देखा कीजिये !!
" 5TH PILLAR CORRUPTION KILLER " नामक ब्लॉग ( समाचार-पत्र ) के पाठक मित्रों से एक विनम्र निवेदन - - - !!
आपका हार्दिक स्वागत है हमारे ब्लॉग ( समाचार-पत्र ) पर, जिसका नाम है - " 5TH PILLAR CORRUPTION KILLER " कृपया इसे एक समाचार-पत्र की तरह ही पढ़ें - देखें और अपने सभी मित्रों को भी शेयर करें ! इसमें मेरे लेखों के इलावा मेरे प्रिय लेखक मित्रों के लेख भी प्रकाशित किये जाते हैं ! जो बड़े ही ज्ञान वर्धक और ज्वलंत - विषयों पर आधारित होते हैं ! इसमें चित्र भी ऐसे होते हैं जो आपको बेहद पसंद आएंगे ! इसमें सभी प्रकार के विषयों को शामिल किया जाता है जैसे - शेयरों-शायरी , मनोरंहक घटनाएँ आदि-आदि !! इसका लिंक ये है -www.pitamberduttsharma.blogspot.com.,ये समाचार पत्र आपको टविटर , गूगल+,पेज़ और ग्रुप पर भी मिल जाएगा ! ! अतः ज्यादा से ज्यादा संख्या में आप हमारे मित्र बने अपनी फ्रेंड रिक्वेस्ट भेज कर इसे सब पढ़ें !! आपके जीवन में ढेर सारी खुशियाँ आयें इसी मनोकामना के साथ !! हमेशां जागरूक बने रहें !! बस आपका सहयोग इसी तरह बना रहे !! मेरा इ मेल ये है : - pitamberdutt.sharma@gmail.com. मेरे ब्लॉग और फेसबुक के लिंक ये हैं :-www.facebook.com/pitamberdutt.sharma.7
www.pitamberduttsharma.blogspot.com
जो अभी तलक मेरे मित्र नहीं बन पाये हैं , कृपया वो जल्दी से अपनी फ्रेंड-रिक्वेस्ट भेजें , क्योंकि मेरी आई डी तो ब्लाक रहती है ! आप सबका मेरे ब्लॉग "5th pillar corruption killer " व इसी नाम से चल रहे पेज , गूगल+ और मेरी फेसबुक वाल पर हार्दिक स्वागत है !!
आप सब जो मेरे और मेरे मित्रों द्वारा , सम - सामयिक विषयों पर लिखे लेख , टिप्प्णियों ,कार्टूनो और आकर्षक , ज्ञानवर्धक व लुभावने समाचार पढ़ते हो , उन पर अपने अनमोल कॉमेंट्स और लाईक देते हो या मेरी पोस्ट को अपने मित्रों संग बांटने हेतु उसे शेयर करते हो , उसका मैं आप सबका बहुत आभारी हूँ !
आशा है आपका प्यार मुझे इसी तरह से मिलता रहेगा !!आपका क्या कहना है मित्रो ??अपने विचार अवश्य हमारे ब्लॉग पर लिखियेगा !!
सधन्यवाद !!
आपका प्रिय मित्र ,
पीताम्बर दत्त शर्मा,
हेल्प-लाईन-बिग-बाज़ार,
R.C.P. रोड, सूरतगढ़ !
जिला-श्री गंगानगर।
" आकर्षक - समाचार ,लुभावने समाचार " आप भी पढ़िए और मित्रों को भी पढ़ाइये .....!!!
BY :- " 5TH PILLAR CORRUPTION KILLER " THE BLOG . READ,SHARE AND GIVE YOUR VELUABEL COMMENTS DAILY . !!
Posted by PD SHARMA, 09414657511 (EX. . VICE PRESIDENT OF B. J. P. CHUNAV VISHLESHAN and SANKHYKI PRKOSHTH (RAJASTHAN )SOCIAL WORKER,Distt. Organiser of PUNJABI WELFARE SOCIETY,Suratgarh (RAJ.)
  

2014 की कॉरपोरेट फंडिग ने बदल दी है देश की सियासत !!

चुनाव की चकाचौंध भरी रंगत 2014 के लोकसभा चुनाव की है। और क्या चुनाव के इस हंगामे के पीछे कारपोरेट का ही पैसा रहा। क्योंकि पहली बार एडीआर न...